पुंछ, एएनआइ। Ceasefire Violation. जम्मू-कश्मीर के पुंछ में रविवार को पाकिस्तान ने बालाकोट और मेंढर में सीजफायर का उल्लंघन कर नियंत्रण रेखा के पास मोर्टार के साथ छोटे हथियारों से गोलाबारी की। इधर, भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की। पाकिस्तान अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहा है। उसने शनिवार को रातभर सीमा पर फायरिंग की।

गौरतलब है कि शनिवार को पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के गुलपुर सेक्टर के देगवार में सैन्य चौकियों के अलावा करीब एक दर्जन गांवों को निशाना बनाते हुए मोर्टार दागे। इसमें एक अग्रिम चौकी पर तैनात नायक शहीद और दो अन्य जवान घायल हो गए। गोलाबारी से सीमा पर कुछ जगह आग भी लग गई है। भारत ने भी पाकिस्तान को इस हिमाकत का करारा जवाब दिया। भारतीय सेना ने जवाबी प्रहार करते हुए पाकिस्तानी सेना की चार चौकियां तबाह कर दी। एक अधिकारी सहित तीन पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की सूचना है। रात तक दोनों तरफ से गोलाबारी जारी रही। हालात को देखते हुए जिला प्रशासन भी सीमांत लोगों की सुरक्षा को लेकर सतर्क हो गया है। शहीद नायक की पहचान राजीव सिंह शेखावत निवासी राजस्थान और घायलों की सिपाही शोयम सिंह व सिपाही आजाद सिंह के रूप में हुई है।

पाकिस्तानी सेना ने गुलपुर सेक्टर में दोपहर बाद करीब 3:45 बजे पहले भारतीय सेना की अग्रिम चौकियों पर छोटे हथियारों से गोलाबारी शुरू की। बाद में एकाएक रिहायशी क्षेत्रों में भारी मोर्टार दागने शुरू कर दिए। इसी बीच, एक अग्रिम पोस्ट पर पाक गोलाबारी से नायक शहीद व दो अन्य जवान घायल हो गए। गोलाबारी के बीच घायलों को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया। गोले जब लोगों के घरों के आसपास गिरने लगे तो भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई शुरू की। सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तानी सेना की कई चौकियां तबाह हो गई हैं। सीमा पार कई जगहों से धुंआ उठता देखा गया। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने कुछ समय के लिए गोलाबारी बंद की, लेकिन थोड़ी देर बाद फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन शुरू कर दिया। पाक गोलाबारी से सीमांत क्षेत्रों में रहने वाले लोगों में दहशत का माहौल है।

पाकिस्तान एलओसी पर आतंकियों की घुसपैठ करवाने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। पिछले करीब चार दिन से उत्तरी कश्मीर में टंगडार के सामने गुलाम कश्मीर में नीलम व लीपा घाटी में पाकिस्तान ने अपने तोपखाने की दिशा बदलने के साथ गतिविधियां भी तेज की हैं। इससे पहले ही आशंका जताई जा रही थी कि पाकिस्तान घुसपैठ का प्रयास करने के साथ भारी गोलाबारी कर सकता है।

पुंछ के बालाकोट सेक्टर में सीमा पर पाकिस्तानी की ओर से साजिशन लगाई गई आग शनिवार को दूसरे दिन भी बुझ नहीं पाई। इस आग ने करीब तीन किलोमीटर के सीमांत क्षेत्र को अपने दायरे में ले रखा है। सेना के दमकल कर्मी व जवान आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे हैं। पाकिस्तानी ने गत शुक्रवार को सीमा पर आग लगा दी थी, ताकि बारूदी सुरंग नष्ट हो जाएं और आतंकियों को सुरक्षित घुसपैठ करवाई जा सके। पाकिस्तान की इस साजिश से भारतीय सेना पूरी तरह सतर्क है।

जम्मू-कश्मीर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sachin Kumar Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस