संवाद सहयोगी, कठुआ: वडाला मार्ग जर्जर होने के कारण लोगों को पैदल चलना भी दूभर हो गया है। मात्र सौ फुट के मार्ग की इतनी खस्ता हालत है कि आने जाने वाले राहगीरों को कई बार हादसों का शिकार होना पड़ता है।

चन्नग्रा से वडाला गाव को जाने वाला मार्ग पर हमेशा पानी जमा होने की वजह से जगह-जगह बड़े गड्ढे हो गए है, जिस वजह से पैदल आने जाने वाले राहगीरों को काफी परेशानी हो रही है। ग्रामीण अमीत सिंह, पवन कुमार, उमेश कुमार ने कहा कि जब भी बरसात का मौसम आता है तब मार्ग पर दो से तीन महीने तक पानी जमा रहता है, इस वजह से आने जाने वाले राहगीरों को पानी से होकर निकलना पड़ता है। पानी जमा होने की वजह से जगह-जगह गड्ढे बने हुए हैं, जो भी कई बार पानी से भर जाते हैं। इसके कारण राहगीर दुर्घटना के शिकार होते है। इस संबंधी कई बार प्रशासन से मार्ग को ठीक करवाने की गुहार लगा चुके हैं, सड़क किनारे नाला बनाए जाने को लेकर सर्वे भी किया गया, लेकिन अब तक न तो नाला बनाने का कार्य शुरू हुआ और ना ही इस मार्ग की हालत में कोई सुधार हुआ। प्रशासन से माग करते हैं कि मार्ग की खस्ता हालत को ठीक कराया जाए, ताकि आने जाने वाले राहगीरों को राहत मिल सके।

नायब सरंपच रोहित गुप्ता बताते हैं कि पिछले काफी समय से मार्ग जर्जर है। कई बार विभाग से बनाए जाने की माग कर चुके हैं, लेकिन अभी तक काम नहीं शुरू किया गया। उधर, पीडब्ल्यूडी के कार्यकारी अभियंता राजन गुप्ता का कहना है कि ओल्ड साबा-कठुआ मार्ग सीआरएफ के अंदर आता है। पिछले छह से आठ महीने से फंड नहीं आ रहे, जैसे ही फंड आते है, जल्द ही काम लगा दिया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस