जागरण संवाददाता, कठुआ :

मंगलवार रात से बुधवार सुबह तक जारी बारिश के चलते सहार खड्ड उफान पर रही। पहाड़ी क्षेत्र में तेज बारिश के कारण पहली बार खडड में बाढ़ आई है। जिला मुख्यालय से सटी खड्ड में सुबह अचानक पानी के तेज बहाव होने के कारणशेरपुर के पास पुल के नीचे पीडब्ल्यूडी द्वारा करोड़ों रुपये खर्च कर बनाया गया काजवे प्लेटफार्म बह गया है। जिससे अब और बारिश होने से पुल को भी खतरा बन सकता है।

जारी बरसात के मौसम में पहली बार सहार खडड में इतनी तेज बाढ़ आई है। जिससे चार साल पहले पुल की मजबूती के लिए बनाया गया आरसीसी प्लेटफार्म बहने से स्थानीय लोगों में जहां निर्माण सामग्री की गुणवत्ता सही नहीं होने को लेकर रोष भी है। स्थानीय निवासी अमित ने बताया कि जिला के डीसी को इसका कड़ा संज्ञान लेना चाहिए कि आखिर करोड़ों रुपये खर्च कर बनाया गया प्लेटफार्म पहली तेज बाढ़ में ही बह गया। इसकी पूरी जांच होनी चाहिए कि प्लेटफार्म तेज बाढ़ के कारण बहा या फिर घटिया निर्माण सामग्री के प्रयोग के कारण। इसकी जांच होनी चाहिए और साथ ही पुल की मजबूती के लिए फिर से प्लेटफार्म बनाने का कार्य शुरू होनर चाहिए। अगर जल्दी नहीं की गई तो पुल को भी नुकसान हो सकता है। इसी बीच जिला के अन्य उज्ज व तरनाह नाले में भी पहाड़ी क्षेत्र में ज्यादा बारिश के कारण पानी का बहाव तेज हो गया है। दरियाओं के आसपास बसने वाले गांवों के लोगों को अब और बारिश होने पर बाढ़ की आशंका से चिंता का माहौल बना हुआ है। वहीं मैदानी क्षेत्र में भी सुबह 10 बजे तक बारिश जारी रही।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस