संवाद सहयोगी, हीरानगर : दयाला चक- कटल सड़क के विस्तारीकरण के तीन साल गुजर जाने के बाद भी कस्बे में दो सौ मीटर सड़क का काम अधर में है। हालत यह है कि बारिश के दौरान आस पास के क्षेत्र का पानी सड़क पर बहने लगता है और रास्ता तंग होने की वजह से वाहन गढ्डों में गिर जाते हैं। इससे लोगों को आने जाने में दिक्कत हो रही है।

सोमवार को वार्ड चार के सदस्य संजय शर्मा के नेतृत्व में स्थानीय लोगों का एक प्रतिनिधिमंडल पीडब्ल्यूडी के एईई राजेश कुमार से मिलकर विस्तारीकरण का काम मुकम्मल करवाने की माग की। संजय शर्मा, रमेश कुंडल, गुरदयाल, रमेश वर्मा व सोमलाल ने कहा कि सड़क तंग होने तथा पानी निकासी के लिए करियाड ट्यूबवेल के नीचे पक्का नाला नहीं होने से लोगों को आने जाने में काफी दिक्कत हो रही है। सड़क पहले से ही तंग है और गड्डे पड़े हुए हैं। बारिश के दौरान पानी सड़क पर बहता हुआ कस्बे के अंदर आ जाता है। उन्होंने कहा कि पहले तो किसी व्यक्ति द्वारा स्टे लगाया गया था तो काम नहीं हो पाया था। अब कोई रूकावट भी नहीं है। फिर भी विभाग बाकी बचा हुआ काम पूरा नहीं कर पा रहा। उन्होंने कहा कि इसी मार्ग पर जाडी के पीछे बारिश के दौरान पानी के बहाव से मिट्टी सड़क पर जमा हो गई है। फिसलन की वजह से लोगों को वहा से गुजरने में मुश्किल हो रही है। विभाग को वहा पर भी नाला बनाकर सड़क पर जमा हुई मिट्टी को हटवाना चाहिए, ताकि लोग आसानी से गुजर सकें।

वहीं, शिष्टमंडल को आश्वस्त करते हुए एईई राजेश कुमार ने कहा कि कस्बे के बीच दो सौ मीटर सड़क के विस्तारीकरण के लिए टेंडर लगा दिया गया है। फंड के अभाव के कारण काम शुरू नहीं हो पा रहा। जैसे ही फंड आता है काम शुरू हो जाएगा और सड़क के बीच पडी मिट्टी हटाने के लिए जेई को कहा गया है।

Edited By: Jagran