संवाद सहयोगी, हीरानगर : पीएचई विभाग के अस्थाई कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से क्षेत्र में पानी की सप्लाई प्रभावित होने लगी है। हीरानगर क्षेत्र में कूटा, टडियाड़ी, मेला में मशीनरी की खराबी तथा सुबे चक्क में लीकेज की वजह से सात दिनों से सप्लाई ठप पड़ी है। इस कारण लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि एक तो विभाग के पास स्थाई कर्मचारी कम हैं दूसरा सीपी वर्कर्स को भी नियमित वेतन नहीं मिल रहा और हड़ताल की वजह से लोगों को परेशानी हो रही है। सूबे चक्क निवासी नरेंद्र सिह, पवन सिंह, शिवदेव सिंह, सुरेंद्र, कृष्ण पाल सिंह, प्रीतम सिंह का कहना है कि पाइप लाइन की लीकेज से गाव में पानी नहीं पहुंच रहा है। पूराने कुंए का पानी बरसात में दूषित हो चुका है, उसकी भी कई सालों से सफाई नहीं हुई। ऐसे में लोगों को निजी टैकरों से पानी खरीद कर पानी पीना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की बार-बार हड़ताल के चलते आम जनता को परेशानी होती है। ऐसे में सरकार को उनकी मागें पूरी करनी चाहिए ताकि पानी की सप्लाई बहाल हो सके। इस संबंध में पीएचई हीरानगर सब डिवीजन के एईई गोपाल शर्मा का कहना है कि सीपी वर्कर्स की हड़ताल की वजह से थोड़ी दिक्कत आ रही है। मशीनरी ठीक करवाने के लिए मैकेनिकल विंग के कर्मचारियों को कहा गया है। सूबे चक्क की लीकेज आज ही ठीक करवा देंगे।

Posted By: Jagran