Move to Jagran APP

Kathua News: सीवरेज बंद होने से गली में बह रहा गंदा पानी, आने जाने वालों को हो रही मुश्किल

Kathua News बसोहली कस्बे के वार्ड नंबर 2 में लगभग चार बजे के करीब सीवरेज बंद हो गया और गंदा बदबूदार पानी गली में बहने लगा। स्कूली बच्चों को छुट्टी हुई और उन्हें मजबूरी में गंदे पानी को पार कर घर तक पहुंचना पड़ा।

By Jagran NewsEdited By: Swati SinghTue, 31 Jan 2023 06:17 PM (IST)
सीवरेज में पॉलीथिन पड़ी होने के कारण पानी निकल नहीं ना पा रहा और वह सड़क पर बह रहा है।

बसोहली, संवाद सहयोगी। बसोहली कस्बे के वार्ड नंबर 2 में लोगों को उस समय परेशानियों का सामना करना पड़ा जब सीवरेज का पानी गली के बाहर बहने लगा। सीवरेज का पानी बहकर सड़कों पर भर गया। गंदा पानी सड़क पर भर जाने की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आने-जाने वालों को बदबू और गंदगी में से गुजरना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें Budget 2023: बजट में किसानों को राहत पहुंचाए सरकार ,फसल पर लागू हो एमएसपी: सुभाष दसगोत्रा

सीवरेज हो गया बंद

बसोहली कस्बे के वार्ड नंबर 2 में लगभग चार बजे के करीब सीवरेज बंद हो गया और गंदा बदबूदार पानी गली में बहने लगा। स्कूली बच्चों को छुट्टी हुई और उन्हें मजबूरी में गंदे पानी को पार कर घर तक पहुंचना पड़ा। स्थानीय निवासियों ने बताया कि पॉलीथिन के कारण सीवरेज बंद हुआ है। सीवरेज में पॉलीथिन पड़ी होने के कारण पानी निकल नहीं ना पा रहा और वह सड़क पर बह रहा है। गंदा पानी सड़कों से होकर गली में बहने लगा।

धड़ल्ले से हो रहा पॉलीथिन का इस्तेमाल

बता दें कि, पॉलीथिन के प्रयोग को लेकर प्रशासन सख्त है। पॉलीथिन पर बैन लग गया है, फिर भी कस्बे में धड़ल्ले से पॉलीथिन का प्रयोग हर दुकानदार कर रहा है। मार्केट में पॉलीथिन मिलने की वजह से हर घर में इसका इस्तेमाल हो रहा है। जिससे लोगों को परेशानी हो रही है।

यह भी पढ़ें Jammu News: सरकारी कर्मचारियों को अंतर विभागीय डेपुटेशन पर भेजेगी सरकार, नीति को प्रभावी बनाने का आदेश जारी

लोग कर रहे एक्शन की मांग

वार्ड वासियों द्वारा पार्षद को सूचित किया गया, लेकिन इसके बाद भी देर शाम तक पानी गली में ही बह रहा था। इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। वार्ड वासियों ने पॉलीथिन पर कड़ा प्रहार करने की मांग की है। लोगों का कहना है कि पॉलीथिन के इस्तेमाल की वजह से पशु बीमार हो रहे हैं, पक्षी जख्मी हो रहे हैं और इसके कारण हर जगह गंदगी होती है। स्थानीय लोगों ने प्रशासन से पॉलीथिन के इस्तेमाल पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।