जागरण संवाददाता कठुआ : चुनावी बुखार से अक्सर नेता मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के बाद आराम फरमाते देखे जाते हैं लेकिन ऊधमपुर संसदीय क्षेत्र से डोगरा स्वाभिमान संगठन के उम्मीदवार लाल सिंह इस मामले में उम्मीदवारों से अलग दिखे। करीब माह तक दिन-रात चुनावी प्रचार के बाद भी लाल सिंह मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के बाद भी थके दिखाई नहीं दिए। उन्होंने शुक्रवार भी पूर्व की भाति अपने कठुआ स्थित निवास स्थान पर कार्यकर्ताओं की विशाल बैठक आयोजित कर उनका उत्साह बढ़ाया और चुनावी प्रचार व मतदान केंद्रों में की गई मेहनत व समर्थन के लिए आभार जताया।

लाल सिंह ने कहा कि कार्यकर्ताओं ने जिस तरह से उन्हें चुनाव के दौरान समर्थन दिया है, उससे वो उत्साहित हैं और वो अब यह चाहते हैं कि आगे भी इसी तरह से ये उत्साह बना रहे।

उन्होंने बूथ कार्यकर्ताओं को ये कहा कि अपने अंदर इस तरह की सोच भी न आने दें कि वो दूसरे उम्मीदवारों से पीछे हैं। हम अपने मकसद के हिसाब से पीछे नहीं बल्कि सबसे आगे हैं, क्योंकि जम्मू संभाग के डोगरों को उनका स्वाभिमान फिर से लौटाने के लिए जो संघर्ष उन्होंने शुरू किया है, वो आज तक किसी भी राजनीति पार्टी ने नहीं किया है। उनका इस चुनाव में मकसद जम्मू संभाग के साथ हो रहे दशकों से भेदभाव के खिलाफ जंग लड़ना है। जिसके चलते इस चुनाव के साथ उनकी जंग अब शुरू हो चुकी है जो अंजाम तक पहुंच कर ही दम लेगी। बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं ने भी चुनावी बुखार में किसी किस्म की कोई सुस्ती या आराम फरमाने की नीति के बजाय पूर्व की भांति बैठक में पूरे उत्साह से भाग लिया और अपने अपने क्षेत्र के मतदान केंद्र की मतदान प्रक्रिया में उनकी पार्टी को मिले समर्थन आकड़ों सहित जानकारी उपलब्ध करवाई। बैठक के दौरान लाल सिंह ने प्रत्येक मतदान केंद्र से कार्यकर्ताओं से एक-एक करके जानकारी हासिल की और वहा की स्थिति को जाना। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं ने उनके अभियान में पूरा सहयोग दिया है और वह चाहते हैं कि इसी तरह से

आगे की लड़ाई में भी सहयोग दें क्योंकि बिना एकजुटता से जम्मू कश्मीर में जम्मू के डोगरी के साथ हो रहे भेदभाव को नहीं मिटाया जा सकता है। डोगरा स्वाभिमान को फिर से राज्य में बहाल करने के लिए हम सबको एकजुटता से संघर्ष करना है, इसलिए कार्यकर्ता अब आगे की रणनीति तय करने में जुट जाएं ताकि अगला मिशन पूरा करने के लिए बैठक के दौरान डोगरा स्वाभिमान संगठन के प्रधान एवं चौधरी लाल सिंह की पत्नी काता अंडोत्रा ने भी कार्यकर्ताओं का चुनाव के दौरान दिए गए समर्थन के लिए आभार जताया और कहा कि आप सभी कार्यकर्ता ही लाल सिंह की ताकत हो जो उनके साथ पूरी मजबूती के साथ जुड़े हैं। और हम उम्मीद करते हैं कि आप इसी ताकत और मजबूती के साथ भविष्य में भी जुड़े रहेंगे ताकि हम अपने मकसद को पूरा करने के लिए अपना संघर्ष जारी रख सकें। उन्होंने कहा कि डोगरा स्वाभिमान जगाने के लिए हमें अब लंबी लड़ाई लड़नी है क्योंकि यहा पर कुछ सरकारों और राजनीति पार्टियों की वजह से डोगरों की पहचान पूरी साजिश के साथ समाप्त की जा रही है। इसके लिए हमें एकजुट होकर इस पहचान को फिर से बनाने के लिए काम करना है। बैठक में जितेंद्र एडवोकेट कीर्ती भूषण, सिंह पप्पू, सरपंच खरोट मोहन सिंह, पोली सिंह, हरमोहिंद्र सिंह, अनिल सिंह अंडोत्रा आदि शामिल थे।

-

भाजपा ने बैठक कर ली मतदान केंद्रों की जानकारी

कठुआ : चुनाव संपन्न होने के बाद जिला भाजपा के कार्यालय में भी सुबह बैठक हुई। जिसमें मतदान केंद्रों पर तैनात बूथ स्तर की टीम ने अपनी-अपनी रिपोर्ट सौंपी। बैठक की अध्यक्षता जिला भाजपा प्रधान प्रेम नाथ डोगरा ने की। डोगरा ने कहा कि उनकी पार्टी के उम्मीदवार एवं केंद्रीय राज्यमंत्री गत दिवस मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के बाद भी देर रात तक कठुआ में रहे और खुद मतदान केंद्रों की जानकारी हासिल करते रहे।

-------------------

कांग्रेस ने भी बैठक कर मतदान प्रक्रिया का किया मंथन

कठुआ : कांग्रेस ने भी बैठक कर चुनावी प्रक्रिया संपन्न होने के बाद विभिन्न मतदान केंद्रों से वहां तैनात बूथ कार्यकर्ताओं से रिपोर्ट ली। बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ नेता पंकज डोगरा ने की। जिसमें कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने मतदान केंद्र की रिपोर्ट देकर वहां का सुबह से शाम तक का रुझान दिया।

बैठक में किस मतदान केंद्र से कितने मत पार्टी को मिलने की संभावना से अवगत कराया गया। हालांकि बैठक में पार्टी के उम्मीदवार विक्रमादित्य सिंह खुद मौजूद नहीं थे। पार्टी के युवा नेता निर्दोष शर्मा ने बताया कि पूरी समीक्षा और मंथन करने के बाद रिपोर्ट उम्मीदवार को सौंपी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस