जम्मू, राज्य ब्यूरो। जम्मू-कश्मीर में काेरोना वायरस को लेकर दहशत का माहौल है। हालात यह है कि जिन दो लोगों को जांच के बाद बुधवार को घर भेज दिया गया था, उन्हें रात को वापस बुलाकर जीएमसी के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवा दिया गया है। वहीं छह और लोगों ने जम्मू व श्रीनगर के अस्पतालों में विदेशों से लौटने पर अपनी जांच करवाई। इनमें से किसी में भी अभी तक पुष्टि नहीं हुई है।

बुधवार को ईरान और दक्षिण काेरिया से दो लोग जम्मू लौटे थे। दोनों ने अपनी जांच मेडिकल कालेज अस्पताल में करवाई जहां पर उनके सैंपल लेकर शाम को उन्हें घरों में वापस भेज दिया था। लेकिन रात को फिर दोनों को जीएमसी में लाया गया और यहां पर बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया गया। उन सभी की हालत स्थर है और उनके सैंपलों की रिपोर्ट का इंतजार है। वहीं इंडोनेशिया से आए दो लोग भी जांच के लिए मेडिकल कालेज में पहुंचे। उनमें कोई भी लक्षण नहीं था। इस कारण दोनों को घरों में भेज दिया गया और दो सप्ताह घरों में परिजनों से अलग रहने को कहा गया।

इसी तरह कश्मीर में भी वीरवार को चार और लोग जांच करवाने के लिए पहुंचे। यह लोग चीन, ईरान और थाईलैंड से आए हुए थे। इन सभी की जांच शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल सांइसेस में हुई है। अभी चारों को इंस्टीट्यूट में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। चार में से दो के सैंपल नेगेटिव आए हैं। दो के सैंपलों की रिपोर्ट आना अभी शेष है। अभी तक विदेशों से जम्मू-कश्मीर में 209 लोग आ चुके हें। इन सभी को स्वास्थ्य विभाग ने अपनी निगरानी में ही रखा हुआ है। कोरोना वायरस के निपटने के लिए बनाए गए नोडल अधिकारी डा. शफकत ने बताया कि अभी तक किसी में पुष्टि नहीं हुई है। इससे निपटने के लिए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस