जम्मू, जागरण संवाददाता।  जम्मू संभाग के ट्रांसपोर्टरों ने टैक्स बढ़ाने, सरोर टोल प्लाजा सहित अन्य मुद्दों को लेकर राज्यपाल प्रशासन के खिलाफ आंदोलन का बिगुल फूंक दिया है। ऑल जेएंडके ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन के आह्वान पर आज जम्मू कश्मीर के प्रवेश द्वार लखनपुर से लेकर श्रीनगर तक 35 हजार कमर्शियल वाहनों के पहिए थम गए हैं।

जम्मू शहर में बसें आैर मिनी बसें सड़कों पर न चलने से माता वैष्णो देवी के श्रद्धालुओं को खासी दिक्कतें पेश आ रही है। हालांकि प्रशासन ने राज्य पथ परिवहन निगम की बसें चलाई हैं लेकिन इनमें काफी भीड़ देखने को मिल रही है। श्रद्धालु अपने गणतंव्यों तक पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। जम्मू से कठुआ और जम्मू-ऊधमपुर-बनिहाल रूट की बसें सड़कों पर नहीं चल रही हैं। सुबह सवेरे स्कूल जाने वाले विद्यार्थी काफी देर तक बस स्टापों पर वाहनों का इंतजार करते नजर अाए। कई निजी स्कूलों ने हड़ताल के मद्देनजर छुट्टी रखी है।

सरकारी कार्यालयों में भी कर्मचारियों की उपस्थिति कम देखने को मिल रही है। वहीं ट्रांसपोर्टरों ने साफ किया है कि अगर आज शाम तक उनकी मांगों पर प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया तो बैठक कर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का फैसला लिया जाएगा। एसोसिएशन चेयरमैन टीएस वजीर ने कहा कि जम्मू कश्मीर में पहले ही ट्रांसपोर्ट व्यवसाय ट्रांसपोर्ट नीति न होने और आतंकवाद की वजह से चौपट है। एक अगस्त को प्रशासन ने एसआरओ-492 जारी कर नई गाडि़यों की खरीद पर 9 और 10 फीसद लगा दिया है।

सरोर में टोल प्लाजा शुरू करके ट्रांसपोर्टर को खत्म करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है। इसे कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरोर में टोल प्लाजा खत्म किया जाना चाहिए क्योंकि हर फेरे के दौरान बस ट्रांसपोर्टर 500 रुपये के करीब टोल टैक्स नहीं दे सकते हैं। जम्मू संभाग में वीरवार को बस, ट्रक, ऑटो, टैक्सी, मिनी बस, ऑयल टैंकर सहित अन्य कमर्शियल के अलावा कोई भी यात्री वाहन सड़कों पर नहीं दौड़ेगा। ट्रांसपोर्टर बिक्रम चौक से सरकार के खिलाफ विरोध रैली भी निकालेंगे।

जम्मू प्रोविस ऑटो आपरेटर यूनियन के अध्यक्ष शांति स्वरूप गुप्ता ने भी कहा कि वीरवार को कोई भी ऑटो शहर की सड़कों पर नहीं दौड़ेगा।एसआरटीसी बस सेवा रहेगी बहालट्रांसपोर्टरों की जम्मू संभाग में एक दिवसीय चक्का जाम से आम जनता को परेशानी न हो इसके लिए एसआरटीसी ने विशेष बंदोबस्त किए हैं।

एसआरटीसी के जीएम आपरेशन स. परमजीत ने बताया कि जम्मू शहर के 20 रूट पर इलेक्टि्रक बस सेवा आम दिनों की तरह बहाल रहेगी। इसके अलावा शहर के अन्य रूट पर भी बसें दौड़ाई जाएंगी। जम्मू के रेलवे स्टेशन से कटड़ा, बस स्टैंड से अंतर जिला रूट सहित अंतरराज्यीय रूट पर भी अतिरिक्त बसें दौड़ाई जाएंगी।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप