जम्मू, जेएनएन। अफगानीस्तान से शुरू हुए पश्चिमी विक्षोभ का असर जम्मू-कश्मीर में देखने को मिल रहा है जिस कारण राज्यभर में हल्की बारिश का सिलसिला वीरवार देर रात से जारी है। बारिश के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित पंथयाल में भूस्खलन के कारण वाहनों की आवाजाही ठप होकर रह गई है। शुक्रवार श्रीनगर से जम्मू के लिए वाहनों को छोड़ा गया था लेकिन भूस्खलन से कई वाहन रास्ते में फंसकर रह गए हैं। जम्मू में जहां दो दिन पहले तापमान चालीस डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था, बारिश के बाद लोगों को काफी राहत मिली है।

जम्मू में सुबह से ही हल्की बुंदाबांदी जारी है जिससे मई में भी मार्च का एहसास हो रहा है। आज सुबह 8.30 बजे का तापमान 25.1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इससे बिजली के ओवर लोड होते ट्रांसफार्मरों को भी राहत मिली। लोगों ने अपने एसी बंद कर दिए और पंखों की हवा भी ठंडी महसूस होने लगी। मौसम विभाग का कहना है कि कश्मीर घाटी में 27 मई तक हल्की बारिश जारी रहेगी। इससे मौसम पर्यटकों के लिए अनुकूल बना रहेगा। श्रीनगर में शुक्रवार सुबह का तापमान 11.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जबकि 23 मई को श्रीनगर का अधिकतम तापमान 17.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

मौसम विभाग का कहना है कि जम्मू में 25 मई को मौसम साफ रहेगा और चटकीली धूप लोगों को परेशान कर सकती है। रविवार के बाद जम्मू संभाग के कई इलाकों में हल्की बारिश की संभावना है। मई के अंत तक मौसम की अठखेलियां राज्य भर में जारी रहेंगी।

वहीं रामबन ट्रैफिक कंट्रोल रूम के मुताबिक जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर तीन हजार से अधिक वाहन फंसे हुए हैं। रामबन में इस समय बारिश हो रही है इसलिए मलवे को हटाने का काम रूक-रूक कर जारी है। मलवा हटते ही सर्वप्रथम फंसे वाहनों को निकालने का प्रयास किया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस