जम्मू, विकास अबरोल। जम्मू-कश्मीर के पर्वतीय क्षेत्रों में 36 बसें मिले हुए एक माह से अधिक हो चुका है। अभी तक इनका परिचालन शुरू नहीं हो पाया है। उम्मीद है कि अब दिसंबर में एसआरटीसी की दो बस गुरेज घाटी में और 34 अन्य डोडा, रामबन और किश्तवाड़ के रूट पर दौड़ेंगी।

हर वर्ष तीनों पहाड़ी जिलों डोडा, रामबन और किश्तवाड़ में सड़क हादसों के कारण कई मासूम जान गंवा बैठते हैं। प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, पहली जनवरी 2010 से लेकर 31 दिसंबर 2018 तक जम्मू-कश्मीर में 9080 लोगों ने सड़क हादसों में जान गंवाई है। ऐसे में अब एसआरटीसी पर यात्रियों को गंतव्यों तक सुरक्षित पहुंचाने का दायित्व बढ़ गया है।

एसआरटीसी के एमडी डॉ. ओवेस अहमद का कहना है कि उन्हें विभाग में आए अभी कुछ समय ही हुआ है लेकिन इतना तय है कि एसआरटीसी को केंद्र की फेम इंडिया योजना के दूसरे चरण में 150 इलेक्ट्रिक बसें मिलेंगी। यह बसें कब मिलेंगी? यह कहना संभव नहीं लेकिन उम्मीद है कि जल्द ही कारपोरेशन के बेड़े में पहले से ही शामिल 40 इलेक्ट्रिक बसों के साथ 150 नई बस शामिल होने से इलेक्ट्रिक बसों की संख्या 190 पहुंच जाएगी जिससे जम्मू और श्रीनगर शहर में प्रदूषण को मुक्त बनाने में काफी मदद मिलेगी।

गौरतलब है कि फेम 2 (फास्टर एडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चङ्क्षरग ऑफ हाईब्रिड एंड इलेक्ट्रिक व्हीकल्स) योजना के तहत जम्मू-कश्मीर सहित देश के 64 शहरों के लिए कुल 5595 इलेक्ट्रिक बसों को मंजूरी मिली है। भारत सरकार के भारी उद्योग विभाग ने 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों, स्मार्ट सिटी, केंद्र शासित प्रदेशों और स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन से फेम योजना के तहत इलेक्ट्रिक बसों के लिए आवेदन मांगे थे।

जेकेएसआरटीसी के बेड़े में शामिल होंगी 150 इलेक्ट्रिक

यात्रियों को सुरक्षित गंतव्यों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी का निर्वाह करने वाली जम्मू-कश्मीर स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (जेकेएसआरटीसी) के बेड़े में जल्द 150 इलेक्ट्रिक बसों को शामिल कर दिया जाएगा। कॉरपोरेशन को केन्द्र सरकार की ओर से फेम इंडिया योजना के दूसरे चरण में जम्मू-कश्मीर को 15 इलेक्ट्रिक बस देने का ऐलान किया गया है। ऐसे में अब केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद जम्मू-कश्मीर सभी को उम्मीद है कि जल्द ही एसआरटीसी की आरामदायक एवं प्रदूषण मुक्त इलेक्ट्रिक बस सेवा का अन्य रूटों पर विस्तार होने के बाद यात्रियों को सफर करने का मौका मिल सकेगा। 

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस