मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जम्मू, राज्य ब्यूरो। श्रीनगर सचिवालय में 16 सितंबर को होने वाले सचिवालय गैर राजपत्रित कर्मचारी यूनियन के चुनाव को लेकर सरगर्मियां जोरों पर हैं। इस बार सचिवालय में यूनियन बनाने के लिए रौफ अहमद भट्ट व अरशद जान के बीच मुकाबला है।

वर्ष 2014 तक रौफ इस यूनियन के प्रधान रह चुके हैं। वह सचिवालय में दो बार हार का बदला लेने के लिए चुनाव मैदान में हैं। वर्ष 2015 व 2017 में उन्हें गुलाम रसूल मीर ने हराकर अपनी यूनियन बनाई थी। अब मीर के राजपत्रित अधिकारी बनने के बाद टीम के वरिष्ठ सदस्य अरशद जान प्रधान पद के लिए मैदान में हैं। दोनों यूनियन नेता चुनाव जीतने के लिए सचिवालय कर्मियों का समर्थन जुटाने की मुहिम में हैं। यूनियन के चुनाव में छह पदाधिकारियों सहित 26 सदस्यों का चुनाव होना है।

यूनियन चुनाव में उप प्रधान पद के लिए सचिवालय कर्मी कुलवीर ङ्क्षसह का मुकाबला संजीव शर्मा से होना है। महासचिव के लिए हिलाल अहमद व यावर हाजी के बीच मुकाबला होगा। सचिव पद के लिए फारूक अहमद का मुकाबला ताहिर और प्रचार सचिव के लिए संजय साधु की टक्कर परवेज अहमद से होगी। कुलदीप शर्मा का मुकाबला ताउस अहमद के बीच है। इनके साथ सदस्यों के 20 पदों के लिए उम्मीदवार मैदान में हैं। सिर्फ सचिवालय कैडर के कर्मचारी ही इस चुनाव में वोट डालेंगे।

दूसरी ओर चुनाव करवाने के लिए प्रशासनिक स्तर पर भी कार्रवाई जारी है। कश्मीर प्रशासनिक सेवा के अधिकारी माजिद खलील अहमद द्राबू को रिटर्निंग अधिकारी बनाया गया है। उनको सहयोग देने के लिए 10 अधिकारियों सहित 55 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। चुनाव 16 सितंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से शाम चार बजे तक होंगे। इसके तुरंत बाद मतों की गिनती की जाएगी और तत्काल बाद नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे। मतदान श्रीनगर सचिवालय के साथ जम्मू सचिवालय में भी होगा।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप