जागरण संवाददाता, जम्मू: शहर के मांडा इलाके में नाके पर तैनात एक कांस्टेबल को तेज रफ्तार कार ने कुचल दिया। कार की चपेट में आने से कांस्टेबल की मौके पर ही मौत हो गई। कांस्टेबल को कुचलने वाली कार घटनास्थल से कुछ दूरी पर खड़ी मिली, जिसे पुलिस ने कब्जे में लेकर उसमें सवार दो युवकों की तलाश शुरू कर दी है। कार में सवार दोनों युवक बजालता गांव में रहते हैं। दोनों सगे भाई बताए गए हैं। यह हादसा बुधवार देर रात दो बजे पेश आया। मृत कांस्टेबल कयूम अली पुत्र कासिम दीन, सिद्दड़ा के रंगूड़ा इलाके का रहने वाला था।

जानकारी के मुताबिक, बुधवार देर रात मांडा इलाके में कांस्टेबल कयूम अली कुछ कुछ पुलिसकर्मियों के साथ तैनात था। इसी बीच उन्हें सूचना मिली कि पीछे से एक आल्टो कार बहुत तेज गति से आ रही है। यह कार पुलिस का नाका तोड़कर भागी थी। सूचना मिलते ही मांडा इलाके में तैनात पुलिसकर्मी अलर्ट हो गए। उधर, जैसे ही उन्हें आल्टो कार (जेके02सीएच-5789) आती दिखी तो उसे रोकने के लिए कयूम अली ने बैरियर सड़क पर लगा दिया और कार को रुकने का इशारा किया। इस पर भी चालक ने कार की गति कम नहीं की और बैरियर को टक्कर मारकर कांस्टेबल कयूम को कुचलते हुए भाग निकला। वहां तैनात अन्य पुलिस कर्मियों ने कयूम को तुरंत जीएमसी अस्पताल पहुंचाया, जहां जांच के बाद डाक्टरों ने उसे मृत बताया। उधर, इस हादसे के बाद पुलिस ने कार की तलाश शुरू की, तो वह घटनास्थल से कुछ दूर मिल गई, जिसे आरोपित छोड़कर फरार हो गए थे। तीन बच्चों का पिता था कयूम, परिवार पर टूटा मुसीबतों का पहाड़

सिद्दड़ा के रंगूड़ा इलाके में रहने वाले कयूम के परिवार पर उसकी मौत के बाद मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। वह तीन बच्चों का पिता था और उसके घर में बच्चों व पत्नी के अलावा बीमार पिता, दो दिव्यांग बहनें व मानसिक रूप से बीमार उसकी मां है। कयूम के पड़ोसियों ने बताया कि उसका पूरा परिवार कयूम की कमाई पर ही निर्भर था। कयूम की मौत की सूचना जैसे ही उसके घर पहुंची तो पूरे घर को कोहराम मच गया। उसकी मां बेसुध हो गई। पत्नी को भी संभालना मुश्किल हो रहा था। बच्चों का बुरा हाल था। कयूम के रिश्तेदारों ने हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की

कयूम के रिश्तेदारों का कहना था कि उन्हें शक है कि उसकी हत्या की गई है। इस मामले की जांच की जानी चाहिए। पुलिस को इस संदर्भ में हत्या का मामला दर्ज कर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने एसएसपी जम्मू से मामले की जल्द जांच पूरी करने और परिवार को मदद की मांग भी की। वहीं, एसएसपी जम्मू चंदन कोहली का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। कांस्टेबल को कुचलकर फरार हुए आरोपितों को जल्द दबोच लिया जाएगा।

Edited By: Jagran