जम्मू, जागरण संवाददाता। पिछले तीन दिनों से जारी बर्फबारी और बारिश के बाद शुक्रवार को भी राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है। वहीं उत्तरी कश्मीर के बांडीपोरा जिले में गुरेज घाटी के खांडियाल गांव में हिमस्खलन की चपेट में आने से कम से कम 30 रिहायशी मकान क्षतिग्रस्त हो गए। कल रात लगभग 9.30 बजे हिमस्खलन की चपेट में आने से कम से कम 22 घर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए। हिमस्खलन के कारण लगभग आठ घर, कुछ जानवर रखने के शेड और कुछ दुकानें आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए।

उन्होंने कहा कि गांव गुरेज़ के मुख्य डावर तहसील से लगभग पांच किमी दूर स्थित है। जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि क्षेत्र में संचार की कमी है। अभी भी हिमस्खलन से हुए नुकसान के बारे में विवरण एकत्र किया रहा है। घटना में किसी भी तरह की जनहानि नहीं हुई है। वहीं बर्फबारी तथा भूस्खलन के चलते तीन सौ किलोमीटर लम्बे जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को यातायात के लिए बंद रखा गया है। बनिहाल क्षेत्र में ताजा बर्फबारी और रामसू-रामबन सेक्टर में कई जगहों पर भूस्खलन होने से किसी भी वाहन को आने-जाने की अनुमति नहीं दी गई है।

ट्रफिक विभाग के अनुसार अभी भी राजमार्ग पर खतरा बना हुआ है। मलवे को हटाने का काम चल रहा है। राजमार्ग सुरक्षित होने के बाद भी वाहनों को छोड़ने की अनुमति दी जाएगी। राजमार्ग बंद होने के कारण श्रीनगर की तरफ जाने वाले 1700 वाहन जिसमें जरूरी सामान से लदे ट्रक शामिल हैं, विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए हैं। वहीं राजमार्ग के करीब रहने वाले स्थानीय जिसमें सिख समुदाय के लोग शामिल हैं, ने राजमार्ग पर फंसे लोगों के लिए लंगर लगाए हैं।

जम्मू में शुक्रवार की सुबह घने कोहरे से शुरू हुई। घना कोहरा बारिश की तरह बरस रहा था। इस दौरान तड़के अपने घरों से निकल नौकरी व अन्य कार्यों के लिए जाने वाले लोगों को रास्ता तक नहीं दिखाई दे रहा था। इस बीच पैदल चलने वालों तथा दो पहियां वाहन चालकों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ा।

जम्मू शहर में इस मौसम का पहला कोहरा शुक्रवार सुबह देखने को मिला। पूरा जम्मू शहर घने कोहरे से ढका हुआ था। बीच में कुछ देर के लिए धूप निकली मगर उसके बाद एक बार फिर कोहरा छा गया। फिर जैसे-जैसे समय बितता गया तो कोहरा भी कम होता गया। इस बीच राज्य में शीतलहर का प्रकोप अभी भी जारी है। मौसम विभाग के अनुसार अब मौसम में सुधार आना शुरू हो जाएगा तथा 25 फरवरी तक मौसम सर्द व शुष्क बना रहेगा।

इसी बीच श्रीनगर का न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 1.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। पहलगाम का न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 1.1 तथा गुलमर्ग का 6.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। इसी बीच लेह का न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 5.4, कारगिल का 13.2, द्रास का तापमान शून्य से नीचे 9.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। वहीं जम्मू का 10.1, कटड़ा का 9.4, बटोत का 2.1, बनिहाल का 3.8, भद्रवाह का 1.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस