श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। घर से चंड़ीगढ़ पढ़ाई के लिए रवाना होने के बाद लापता शोपियां का युवक मिल गया है। यह युवक कॉलेज या किसी रिश्तेदार के पास नहीं, बल्कि घाटी में अपना नेटवर्क तैयार करने में जुटे आतंकी संगठन अल-बदर मुजाहिदीन के आतंकियों की जमात में मिला है।

सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीर वायरल हो रही है। तीन माह में अल-बदर से जुड़ने वाले दक्षिण कश्मीर के युवकों की संख्या भी पांच हो गई है।शोपियां के मलिकगुंड से लापता शेख वकार पुत्र मोहम्मद असलम करीब 20 दिन पहले गायब हुआ। वह 15 जुलाई से आतंकी संगठन का एक सक्रिय सदस्य है। उसने सोशल मीडिया पर अपनी एक तस्वीर वायरल की है जिसमें वह एसाल्ट राइफल लिए खड़ा नजर आ रहा है।

अल-बदर आतंकी संगठन ने उसका कोड नाम टीपू सुल्तान रखा है। उसने बीएससी की डिग्री हासिल करने के बाद लैब टेक्नीशियन का डिप्लोमा भी किया है। शोपियां स्थित एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि वकार के लापता होने की रपट उसके परिजनों ने दर्ज कराई है।

हम सोशल मीडिया पर लगातार वायरल हो रही उसकी तस्वीर की सच्चाई का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं।वकार के परिजनों का कहना है कि वह करीब 20 दिन पहले घर से चंडीगढ़ के लिए रवाना हुआ था लेकिन वह चंड़ीगढ़ नहीं पहंुचा। उसका फोन भी लगातार बंद आ रहा था।

हमने उसी समय पुलिस में रपट दर्ज कराई। उसे यह रास्ता नहीं चुनना चाहिए था। वकार के परिजनों ने उससे मुख्यधारा में लौटने की अपील करते हुए कहा है कि पहले उसे अपने मां-बाप व तीन बहनों के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वाह करना चाहिए।

NDA की परीक्षा पास करने वाला नौजवान बना आतंकी

पिछले दिनों कई ऐसे युवकों के आतंकी बनने की खबर भी आई जो गलत संगत में ऐसा कर बैठे। युवकों को आतंकी संगठनों से दूर रखने के सरकारी दावों की पोल खोलते हुए दक्षिण कश्मीर के शोपियां का एक बीटेक युवक भी आतंकी बन गया था। उसने आतंकियों की वेश-भूषा में अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल कर आतंकी बनने का एलान किया था।  

बतादें, कि आतंकी बनने वाले युवक का नाम आदिल नजीर अहमद था। आतंकी संगठन ने उसे अबु बकर कोड नाम दिया है। जिला शोपियां के पडरपोरा गांव के रहने वाले नजीर अहमद का पुत्र आदिल अप्रैैैलल माह की शुरुआत में अपने घर से गायब हुआ बताया गया था। उसके गायब होने के दिन से ही उसके आतंकी बनने की आशंका जताई जा रही थी, जो सही साबित हुई थी। बताया गया था कि आदिल बीटेक था।

वहीँ कश्मीर घाटी में पिछले एक साल से आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच बढ़ते मुठभेड़ों से आतंकवाद बढऩे की संभावनाएं जताई जा रही हैं। इसी क्रम में दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिला से दो और युवक आतंकियों में शामिल हो गए थे। आतंकी बने दोनो युवकों की तस्वीरें सोशल नेटवर्किंग साइटों पर वायरल हो गई थी। सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीरों में एक युवक की पहचान समीर अहम शेख पुत्र गुलाम मोहम्मद शेख निवासी रावलपुरा शोपियां के रुप में हुई थी। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार समीर भी जैश-ए-मोहम्मद संगठन में शामिल हो गया था।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस