Move to Jagran APP

Kathua Encounter: कठुआ में हुए आतंकी हमले के बाद जम्मू में बढ़ी सुरक्षा, अमरनाथ यात्रा को लेकर अलर्ट पर एजेंसियां

जम्मू-कश्मीर के कठुआ (Kathua Encounter) के मछेड़ी इलाके में आज आतंकियों ने सेना के काफिले पर गोलीबारी और ग्रेनेड से हमला किया। इस हमले में चार जवान बलिदान हो गए। वहीं इस हमले के बाद अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra 2024) को लेकर एजेंसियां अलर्ट मोड पर आ गई हैं। साथ ही अमरनाथ यात्रा को लेकर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

By Dinesh Mahajan Edited By: Deepak Saxena Mon, 08 Jul 2024 09:52 PM (IST)
Kathua Encounter: कठुआ में हुए आतंकी हमले के बाद जम्मू में बढ़ी सुरक्षा, अमरनाथ यात्रा को लेकर अलर्ट पर एजेंसियां
कठुआ में हुए आतंकी हमले के बाद जम्मू में बढ़ी सुरक्षा (फाइल फोटो)।

जागरण संवाददाता, जम्मू। कठुआ के मछेड़ी इलाके में हुए आतंकी हमले के मद्देनजर जम्मू में सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया। जम्मू में पहले ही अमरनाथ यात्रा चल रही है, ऐसे में सुरक्षा बल पहले से ही हाई अलर्ट पर है। इस आतंकी हमले के बाद शहर में नाकों पर वाहनों व उनमें सवार लोगों की जांच की जा रही है।

स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के जवान औचक नाके लगाकर संदिग्ध लोगों की जांच कर रहे है। वहीं, सीमांत क्षेत्रों में सुरक्षा बलों के साथ विलेज डिफेंस ग्रुप के सदस्यों को भी हाई अलर्ट पर कर दिया गया है। पुलिस अन्य सभी सुरक्षा एजेंसियों के साथ समन्वय बनाकर जिलेभर में कड़ी चौकसी कर रही है।

वाहनों में सवार लोगों के पहचान पत्र की हो रही जांच

जम्मू के सभी एंट्री प्वाइंट पर लगे नाकों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। यात्री वाहनों में सवार लोगों की व उनके पहचान पत्रों की जांच की जा रही है। शहर में पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है।

अमरनाथ यात्रा के चलते बढ़ाई गई सुरक्षा

एसएसएपी जम्मू डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि अमरनाथ यात्रा के चलते सुरक्षा को पहले ही बढ़ा दिया गया था। कठुआ में आतंकी हमले के बाद से जिला पुलिस हाई अलर्ट पर है। जिले की सीमा पर स्थित सभी नाकों पर सुरक्षाबलों की संख्या को बढ़ा दिया गया है। पुलिस के साथ अर्ध-सैनिकबलों के जवान सुरक्षा में तैनात किए गए हैं।

ये भी पढ़ें: जम्मू संभाग में आतंकी हमलों में आई तेजी के पीछे लश्कर-ए-तैयबा के इस आतंकी का हाथ, NIA की मोस्ट वांटेड लिस्ट में भी है शामिल

हाईवे पर बढ़ाई गई पेट्रोलिंग

एसएसपी ने बताया कि सामरिक महत्व के ठिकानों की तरफ जाने वाले मार्गो के साथ ही हाईवे पर पेट्रोलिंग को बढ़ाया गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग में स्थित पुलिस पिकेट को सतर्क कर दिया गया है। किसी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि या व्यक्ति को देखे जाने पर फौरन पुलिस कंट्रोल रूम को सूचित के निर्देश दिए गए हैं।

पुलिस, सेना, सीमा सुरक्षा बल, सीआरपीएफ के साथ जिले की सुरक्षा व्यवस्था की इन सभी एजेंसियों के साथ और खुफिया और खबरिया नेटवर्क के साथ करीबी समन्यवय के साथ काम किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें: Kathua Encounter: कठुआ में सैन्य काफिले पर आतंकी हमला, चार जवान बलिदान; ग्रेनेड से किया था हमला