जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू शहर व उसके आसपास के क्षेत्रों में मंगलवार को दूसरे दिन भी पुलिस प्रशासन द्वारा लगाई गई पाबंदियां जारी रही। पुराने शहर की हरेक गली के बाहर सुरक्षा कर्मियों ने तारबंदी कर लाेगों की आवाजाही को पूर्ण रूप से रोक लिया है। बिना ठोस कारण के किसी को भी जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है। शहर के प्रत्येक चौक चौराहों में आमर्ड पुलिस के अलावा केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों को तैनात किया गया है।

राज्य सरकार के आपात्तकाल विभागों में तैनात कर्मचारी चौक चौराहों में तैनात सुरक्षा कर्मियों को उन्हें प्रताड़ित करने का आरोप लगा रहे है। राज्य स्वास्थ्य विभाग में तैनात नर्सिंग आर्डली अनिल कुमार के अनुसार उन्हें विभाग के अधिकारियों ने उन्हें अपनी ड्यूटी पर आने के निर्देश दिए है, लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने जगह जगह तारबंदी कर सभी रास्तों को सील कर दिया है। सुरक्षा कर्मियों को पहचान पत्र दिखाने के बावजूद उन्हें ड्यूटी पर जाने नहीं दिया जा रहा।

वहीं, दूसरी दिन भी शहर से यात्री वाहन नदारद रहे। जिसका सबसे अधिक खामियाजा विभिन्न रेलगाड़ियों में आ रहे यात्रियों को भुगतना पड़ा। उन्हें अपने गंतव्य की ओर रवाना होने के लिए खासी दिक्कतों का सामान करना पड़ा। यात्री वाहन उपलब्ध ना होने से लोग अपना सामान स्वयं उठा कर रवाना होते हुए देखे गए। मोबाइल इंटरनेट अभी भी बंद हैं और प्रशासन ने एहतियात के तौर पर स्कूल, कालेजों को भी बंद रखा है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस