श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। उत्तरी कमान के जीओसी-इन-सी लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने वरिष्ठ सैन्या धिकारियों संग कश्मीर के आंतरिक और बाहरी सुरक्षा का जायजा लेते हुए एलओसी पर घुसपैठ और पाक सेना द्वारा जंगबंदी के उल्लंघन से निपटने की रणनीति को अंतिम रूप दिया।

उन्होंने सभी सैन्याधिकारियों को दुश्मन के हर दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देने और आम लोगों को सुरक्षा के लिए हरसंभव कदम उठाने को कहा। जीओसी-इन-सी ने बादामी बाग स्थित चिनार कोर मुख्यालय में हुई बैठक में वादी में जारी रमजान युद्धविराम के बाद पैदा हालात पर संबंधित फील्ड कमांडरों की राय जानी।

उन्होंने निर्देश दिया कि वह आतंकी संगठनों में नए युवकों की भर्ती रोकने के लिए सभी संभव कदम उठाते हुए आम लोगों से संवाद व समन्वय बढ़ाएं। उन्होंने चिनार कोर कमांडर संग उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से सटे अग्रिम इलाकों में स्थित सैन्य चौकियों और प्रतिष्ठानों का भी दौरा किया।

वहां तैनात जवानों व अधिकारियों के साथ उनकी युद्धक तैयारियों से लेकर घुसपैठ व जंगबंदी के उल्लंघन से निपटने की रणनीति पर भी बातचीत की। उन्होंने जवानों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि पूरा देश सरहद पर तैनात सैन्याधिकारियों के पीछे खड़ा है।

हमें देश की एकता और अखंडता की खातिर किसी भी स्थित से निपटने के लिए हर दम तैयार रहना चाहिए।विदित हो कि उत्तरी कमान के कमांडर का कार्यभार ग्रहण करने के बाद जीओसी-इन-सी लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह का यह पहला कश्मीर दौरा है। सुबह उधमपुर से श्रीनगर पहुंचने पर चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल एके बट ने उनकी आगवानी की।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप