जम्मू, राज्य ब्यूरो । जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर संजीव वर्मा ने निर्देश दिए कि इस वर्ष की बाबा अमरनाथ यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को ठहराने के जगहों की पहचान की जाए। साथ ही साफ सफाई का अभियान चलाया जाए। जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर ने बाबा अमरनाथ यात्रा की तैयारियों पर विचार विमर्श किया।

बैठक में श्री अमरनाथ जी श्राईन बोर्ड के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जम्मू के एसएसपी सुरक्षा, एसएसपी ट्रैफिक के अलावा विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों, डिप्टी कमिश्नरों ने भाग लिया। बैठक में श्रद्धालुओं को ठहराने, लंगर, सुरक्षा, प्रचार सहित अन्य प्रबंधों पर चर्चा की गई। वर्मा ने कठुआ के डिप्टी कमिश्नर को निर्देश दिए कि जम्मू कश्मीर के प्रवेश द्वार लखनपुर में स्वागत केंद्र, मेडिकल सेंटर, कंट्रोल रूम स्थापित किया जाए। यात्रियों को ठहराने के लिए जगहों की पहचान की जाए और साथ में लंगर लगाने के लिए भी जगहों का चयन किया जाए।

उन्होंने रामबन के डिप्टी कमिश्नर से कहा कि जिला में त्वरित कार्रवाई करने वाली टीमों का गठन किया जाए। अगर यात्रियों को परेशानी पेश आती है तो टीमें श्रद्धालुओं की मदद के लिए जल्द पहुंच सकें। यात्रियों को ठहराने के लिए जगहों की पहचान होनी चाहिए क्योंकि अगर भूस्खलन के कारण जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद होता है तो श्रद्धालुओं को परेशानियों का सामना न करना पड़े। उन्होंने पर्यटन विभाग से कहा कि जम्मू में यात्री निवास की मरम्मत के लिए टेंडर निकाले जाएं।

यात्री निवास में निर्धारित समय पर बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवा दी जाएं। उन्होंने लोक निर्माण विभाग से कहा कि केनाल रोड से लेकर भगवती नगर यात्री निवास तक सड़क पर तारकोल बिछा दिया जाए। वर्मा ने कहा कि सभी विभाग निर्धारित समय पर आपसी तालमेल से काम करें ताकि वर्ष 2021 की यात्रा को पूरी तरह से सफल बनाया जा सके।

Edited By: Vikas Abrol