मीरां साहिब, संवाद सहयोगी। क्षेत्र के गांव इंदिरा नगर में भूमि विवाद को लेकर समाज सेवक दिनेश रैना पर पत्थर से हमला करने वाले आरोपित तीन दिन गुजर जाने के बाद भी अभी तक पुलिस के हाथ नहीं लग पाए हैं जिसके चलते पुलिस प्रशासन के प्रति लोगों में रोष है।

लोगों ने आरोपितों को जल्द से जल्द पकड़ने की गुहार लगाई है। उधर घायल अभी भी जीएमसी में उपचाराधीन है और डॉक्टरों ने उनकी हालत गंभीर देखते हुए अभी तक उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं किया है। ज्ञात रहे कि 20 जून को गांव इंदिरा नगर में दिनेश रैना अपनी जमीन में कार्य कर रहे थे। इसी बीच गांव बोर कैंप का नवीन कुमार और प्रेम नगर का पंकज कुमार वहां पर पहुंचे और भूमि विवाद को लेकर उसके साथ बहसबाजी की और बाद में नवीन ने एक पत्थर उठाकर दिनेश के सिर पर मारा जिसके चलते उनको आंख और सिर पर गंभीर चोटें आई। प

रिजनों ने मौके पर पहुंचकर उन्हें घायल अवस्था में खेत से उठाया और पुलिस थाने में ले जाकर मामला दर्ज कराया था। इस संबंध में पूछे जाने पर थाना प्रभारी सुल्तान मिर्जा ने बताया कि दोनों आरोपित हमले के दिन से ही फरार चल रहे हैं और उनके मोबाइल फोन स्विच ऑफ हैं। हालांकि पुलिस ने उनको पकड़ने के लिए उनके घरों में भी दबिश दी मगर वह हाथ नहीं लगे। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले एक-दो दिन के अंदर ही फरार लोगों को दबोच लिया जाएगा।

उधर घायल के परिजनों ने पुलिस से मांग कर कहा कि जल्द से जल्द आरोपितों को हिरासत में लिया जाए नहीं तो वह सड़क पर उतर कर प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर हो जाएंगे। इसलिए पुलिस के उच्चाधिकारी इस ओर ध्यान दें और जल्द से जल्द हमलावरों को पकड़ा जाए और उनके साथ इंसाफ किया जाए और आरोपितों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए।

Edited By: Vikas Abrol