जागरण संवाददाता, राजौरी । उत्तरी कमान प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कश्मीर के बाद शनिवार को जम्मू संभाग के राजौरी-सुंदरबनी सेक्टर का दौरा कर पाक सरकार और सेना को चेतावनी दी। उन्होंने साफ किया कि पाकिस्तान गुलाम कश्मीर के नागरिकों का इस्तेमाल नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर किसी ढाल के रूप में न करे। अगर नियंत्रण रेखा पर किसी भी तरह की कोशिश की तो भारतीय सेना करारा जवाब देगी। 

उन्होंने नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर तैनात जवानों के साथ मुलाकात कर उनका मनोबल भी बढ़ाया और पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब देने के निर्देश दिए। सेना के सेक्टर कमांडरों ने 16 कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल परमजीत सिंह को बताया कि घुसपैठ को रोकने के लिए क्या उपाय किए जा रहे हैं और सीमा पार से होने वाले संघर्ष विराम का किस तरह से जवाब दिया जा रहा है। रणवीर सिंह ने अग्रिम चौकियों का दौरा किया।

एलओसी पर किसी भी तरह कोशिश की तो करारा जवाब देगी

उत्तरी कमान प्रमुख ने कहा कि क्षेत्र में शांति एवं विकास के लिए सेना हर प्रयास कर रही है। लोगों को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। आम लोगों की सुरक्षा के लिए हमारे जवान पूरी तरह से तैयार हैं।पत्रकारों से बात करते हुए रणवीर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से बीते कुछ दिनों से अपने लोगों को भड़काने और इन्हें एलओसी के पास जाने और इसे पार करने का प्रयास करने के लिए कहा जा रहा है। अगर ऐसी स्थिति में पाकिस्तान की तरफ कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी सिर्फ पाकिस्तान सरकार की ही होगी। पाकिस्तान सरकार और सेना ध्यान रखे कि उसके स्थानीय लोग एलओसी के पास ना आएं।

लेफ्टिनेंट जनरल सिंह ने कहा कि हमने नियंत्रण रेखा पर हर साजिश को नाकाम किया है और स्थितियां पूरी तरह से हमारे नियंत्रण में है। जीओसी ने बताया कि पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर उल्लंघन और घुसपैठ की कोशिशें कर एलओसी पर तनाव पैदा करने का प्रयास किया जा रहा है। गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को गुलाम कश्मीर में रैली कर लोगों के बीच भड़काऊ भाषण दिया था। इमरान ने कहा था कि आप लाइन ऑफ कंट्रोल की तरफ जाना चाहते हैं, लेकिन अभी लाइफ ऑफ कंट्रोल की तरफ नहीं जाना, जब तक मैं आपको नहीं बताऊंगा।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप