जागरण संवाददाता, जम्मू : सीमावर्ती आरएसपुरा सेक्टर में पाकिस्तान से घुसपैठ कर आए एक युवक को स्थानीय लोगों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। युवक की पहचान अब्दुल बशारत (23) निवासी गांव चपरार, सियालकोट के रूप में हुई है। सूत्रों के मुताबिक युवक शनिवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ लगते भारतीय गांव मंगराल और अब्दुल्लियां के बीच संगराल से घुसपैठ कर भारतीय इलाके में दाखिल हुआ। घुसपैठ के बाद वह गांव अब्दुल्लयां में पहुंच गया। करीब डेढ़ किलोमीटर पैदल चलने पर उसने गांव बेगे में पहुंच कर किसी व्यक्ति से मोटरसाइकिल पर लिफ्ट ली और गांव चंदू चक्क कैंप पहुंचा। वहां खेत में लगे ट्यूबवेल पर उसने स्नान किया, ताकि शरीर पर लगी मिट्टी साफ हो जाए। इसके बाद वह गांव में इंद्रलाल के घर में घुस गया। सेना से रिटायर इंद्रलाल उस समय पेंशन निकलवा कर घर लौटे थे। उन्होंने कमीज आंगन में पेड़ पर टांगी और हाथ-मुंह धोकर कपड़े बदलने के लिए घर के अंदर चले गए। इसी बीच युवक घर के आंगन में घुस गया और कमीज में रखे पेंशन के पैसे निकाल लिए और वहां से भाग गया। बाद में वह ग्रामीण बोधराज पुत्र रवेला राम के घर में घुस गया। उस समय बोधराज और उसका परिवार कमरे में बैठा हुआ था। वहां युवक ने अपने कपड़े बदल कर घर में रखे कपड़े पहन लिए। उसने अपनी लाल टी शर्ट, सफेद बनियान और सफेद पैंट को उतार कर नए कपड़े पहन लिए। इसी बीच बोधराज की पत्नी आशा देवी दूसरे कमरे में पहुंचीं तो युवक को देख कर घबरा गईं। उसने शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर सुनकर स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे और घुसपैठिये को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने घुसपैठिये के कब्जे से इंद्रलाल के घर से चुराए 2830 रुपये और एक एंड्रॅायड फोन बरामद किया है। पुलिस ने उसके कपड़े भी बोधराज के घर से बरामद कर लिए हैं। एसएसपी जम्मू तेजेंद्र सिंह का कहना है कि घुसपैठिये से पूछताछ की जा रही है। घुसपैठिया किस मकसद से भारतीय क्षेत्र में घुसा, इस बारे में पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। क्या वह किसी आतंकी संगठन से संबधित है? क्या वह पाकिस्तान की ओर से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आतंकवादियों की घुसपैठियों के गाइड के तौर पर यहां पहुंचा? इस बारे में सुरक्षा एजेंसियां पूछताछ में लगी हुई हैं। घुसपैठ को देखते हुए सीमावर्ती क्षेत्रों में सुरक्षा कड़ी कर दी है। सुरक्षा एजेंसियां आरएसपुरा सेक्टर में बड़ी घुसपैठ से इन्कार नहीं कर रही हैं। संदिग्ध युवक से बरामद एंड्रॉयड फोन के नंबरों को खंगाला जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि पहले उसने अपना नाम नदीम बताया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस