संवाद सहयोगी, विजयपुर : देर से लगाई गई धान की फसल लीफ फोल्डर की चपेट में आ गई है। विशेषकर बासमती धान पर लीफ फोल्डर का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। धान की फसल के लीफ फोल्डर की चपेट में आने से सीमावर्ती गांव पखड़ी, केसो मन्हासा, खानपुर, बरोटा कैंप, कमौर, रजवाल, पलौटा, रामगढ़ के धान उत्पादक किसान परेशान हैं।

किसान पूरन चंद, चूड़मल, मदन लाल, पुरुषोत्तम, रमेश लाल, सतपाल, विजय आदि ने बताया कि धान की फसल व बासमती की फसल पर लीफ फोल्डर का हमला हुआ है, जिसका प्रकोप बढ़ता जा रहा है। कीट फसल को काफी नुकसान पहुंचा रहे हैं व कीट पत्तों को लपेट रहे हैं व पौधे सूखने लगे हैं। किसानों का कहना है कि इससे फसल को काफी नुकसान पहुंच रहा है व पैदावार पर भी असर पड़ सकता है। किसानों ने प्रशासन व कृषि विभाग के आला अधिकारियों का ध्यान इस ओर दिलाते हुए विशेषज्ञों की टीम को प्रभावित क्षेत्रों में भेजकर किसानों को जागरूक किया जाए व रोकथाम के उपाए बताए जाएं। कृषि विभाग के एईओ विजयपुर व रामगढ़ के अनुसार लीफ फोल्डर से निजात के लिए किसानों को फसल पर दवाओं का छिड़काव करना चाहिए व देसी इलाज भी करना चाहिए।

Posted By: Jagran