जम्‍मू, जेएनएन। नवरात्र के छठे दिन 38,500 श्रद्धालु पंजीकरण करवाकर मां वैष्णो देवी के दर्शन के लिए भवन की ओर रवाना हुए। नवरात्र के पहले दिन 48,900, दूसरे दिन 40,000, तीसरे दिन 39,900, चौथे दिन 41, 500 और पांचवें दिन 36,800 श्रद्धालुओं ने मां के चरणों में पहुंच हाजिरी लगाई थी। शनिवार को नवरात्र में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं का आंकड़ा पौने तीन लाख जाएगा।

पवित्र शारदीय नवरात्र में विश्व प्रसिद्ध तीर्थ स्थल मां वैष्णो देवी के भवन सहित आधार शिविर कटड़ा का कोना-कोना मां के जयकारों से गूंज रहा है। वहीं, आधार शिविर कटड़ा में श्रद्धालु जगह-जगह टोलियां बनाकर मां के भजनों में लीन हैं।

माता के भवन की ओर आने-जाने वाले श्रद्धालु.. तूने मुझे बुलाया शेरा वालिए.. मैं आया मैं आया शेरा वालिए.. गाते हुए एक दूसरे का उत्साह बढ़ा रहे हैं। सबसे ज्यादा उत्साह नौजवानों और बच्चों में देखने को मिल रहा है, जो माथे पर लाल चुनरी बांधे हाथों में झंडे लिए पूरे जोश के साथ मां के भवन की ओर बढ़ रहे हैं। चाहे दिन हो या रात हर तरफ उत्सव जैसा माहौल व्याप्त है।

 जम्मू व कटड़ा रेलवे स्टेशन में अब कुल्हड़ में मिलेगी चाय

जानकारी के अनुसार भारतीय रेलवे ने जम्मू और कटड़ा रेलवे स्टेशनों में डिस्पोजल बर्तन के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। अब जम्मू रेलवे स्टेशन में यात्रियों को कुल्हड़ में चाय मिलेगी। भारत स्वच्छता अभियान के तहत जम्मू रेलवे स्टेशन में प्लास्टिक के लिफाफों पर पहले ही प्रतिबंध है।

फिरोजपुर डिवीजन के अधीन आने वाले राज्य के दो रेलवे स्टेशन में पहले चरण में कुल्हड़ का प्रयोग किया जाएगा। चीफ कमर्शियल मैनेजर समीर कुमार की ओर से जारी आदेश के तहत चाय कुल्हड़ में परोसी जाएगी। डिस्पोजल बर्तन जिनमें प्लास्टिक के गिलास और प्लेट भी शामिल हैं, पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। स्टेशन में अब कुम्हार द्वारा तैयार किए जाने वाले मिट्टी की प्लेट और गिलास बेचे जाएंगे। देशभर में पहले चरण में 25 रेलवे स्टेशन का चयन किया गया है, जहां डिस्पोजल बर्तन के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाया गया है। इनमें जम्मू और कटड़ा रेलवे स्टेशन शामिल हैं।

आदेश में यह भी सुझाव दिया गया है कि रेल अधिकारी खादी ग्रामीण उद्योग से संपर्क बनाकर रखें ताकि वह कुल्हड़ और मिट्टी के वर्तन उपलब्ध करवा सकें। गांधी जयंती यानि दो अक्टूबर से ही रेलवे बोर्ड के इस फैसले को लागू समझा जाए। वहीं, इस आदेश के बाद जम्मू रेल प्रबंधन ने सभी वेंडरों को बुलाकर डिस्पोजल सामान को बेचने पर रोक लगाने के लिए कहा है। उन्होंने चाय के लिए कुल्हड़ और मिट्टी के बर्तन की खरीदारी को सुनिश्चित करने के लिए कहा है। ऐसा नहीं करने वाले वेंडरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप