जम्मू, जेएनएन। पहली जुलाई से शुरू होने जा रही बाबा अमरनाथ यात्रा के दौरान देशभर से आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को किसी किस्त की दिक्कत न हो इसके लिए प्रशासन द्वारा अभी से पूरी तरह कर ली गई है। हर रोज जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग की स्थिति पर प्रशासन की पैनी नजर रहेगी और यात्री शिविर में 24 घंटे श्रद्धालुओं की स्वास्थ्य की जांच के लिए तीन डॉक्टर भी मौजूद रहेंगे।

कश्मीर के डिवीजनल कमिश्नर बसीर अहमद खान ने आदेश जारी करते हुए कहा कि पुलवामा के डिप्टी कमिश्नर रोजाना ही जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग की निगरानी करेंगे और रोज मार्ग की स्थिति की रिपोर्ट भी देंगे। डिवीजनल कमिश्नर ने कहा कि बाबा अमरनाथ यात्रा को सफल बनाने के लिए विभाग और मशीनरी पूरी तरह से सक्रिय होकर काम करें। अनंतनाग, पुलवामा, कुलगाम और गांदरबल के डिप्टी कमिश्नरों ने यात्रा प्रबंधों की जानकारी डिवीजनल कमिश्नर को दी। कर्मचारियों को बार एंड कलर कोड पास, जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर श्रद्धालुओं को ठहराने की व्यवस्था करने, मेडिकल कैंप, चिकित्सा सुविधा, पानी, बिजली, रिकवरी वैन, आवश्यक वस्तुओं का स्टाक, शेल्टर शेड, आपदा प्रबंधन, ट्रैफिक योजना समेत अन्य जानकारी दी। डिवीजनल कमिश्नर ने कहा कि यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएं।

राष्ट्रीय राजमार्ग की स्थिति का पता लगाने के लिए टीम का गठन होगा

डिप्टी कमिश्नर पुलवामा से कहा गया कि वे नियमित तौर पर जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जवाहर टनल से लेकर बालटाल तक निगरानी रखें। यह प्रक्रिया तब तक अपनाई जानी है जब तक यात्रा संपन्न नहीं हो जाती है। पुलवामा के डीसी से यह भी कहा गया कि वह राष्ट्रीय राजमार्ग की स्थिति का पता लगाने के लिए टीम का गठन करेंगे। अनंतनाग और गांदरबल के डीसी से कहा गया कि वे यात्रा मार्गों की निगरानी रखेंगे और चौबीस घंटे डिवीजनल कमिश्नर कार्यालय को रिपोर्ट देंगे।

तीसरी आंख की नजर में रहेंगे आधार शिविर और लंगर स्थल

अमरनाथ यात्रा में आधार शिविर (जम्मू-पहलगाम-बालटाल) और लंगर स्थल तीसरी आंख की निगरानी में रहेंगे। इसके अलावा यात्रा ड्यूटी पर तैनात प्रशासनिक अधिकारियों और कर्मियों को विशेष पहचानपत्र जारी किए जाएंगे।

भगवती नगर स्थित यात्री निवास में श्रद्धालुओं के लिए किए जा रहे प्रबंधों का राज्यपाल के सलाहकार खुर्शीद अहमद गनई ने जायजा लिया। संबंधित अधिकारियों ने यात्रा इंतजामों से रूबरू कराया। जम्मू में श्रद्धालुओं का पहला जत्था 30 जून को पहलगाम और बालटाल के लिए रवाना होगा। जो पहली जुलाई को शिवलिंग के दर्शन करेगा। अहमद गनई ने संयुक्त निदेशक पर्यटन शौकत मलिक, उपनिदेशक पर्यटन पवन गुप्ता और संबंधित विभागों के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ भगवती नगर स्थित यात्री निवास का दौरा किया। उन्होंने आवासीय, लंगर, पेयजल, स्वास्थ्य, बिजली, सुरक्षा, पंजीकरण समेत सभी सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि अगर किसी सुविधा को जुटाने में दिक्कत आ रही है या उपलब्ध नहीं है तो तत्काल बताया जाए ताकि उसे यात्रा शुरू होने से पहले यकीनी बनाया जा सके।

प्रत्येक यात्री शिविर में 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे तीन डॉक्टर

जिला उपायुक्त जम्मू रमेश कुमार ने अमरनाथ यात्रा को लेकर विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने जम्मू में सरस्वती धाम, वैष्णवी धाम, गीता भवन, महासभा, क्रांति होटल और संगम होटल में श्रद्धालुओं के लिए की गई व्यवस्था की समीक्षा की। संबंधित स्थानों पर स्वच्छता को यकीनी बनाने पर जोर दिया। उन्होंने तीर्थयात्रियों की बेहतर सुविधा के लिए इन स्थानों पर मोबाइल शौचालय आवंटित करने के लिए भी जोर दिया।

उपायुक्त ने पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे सुनिश्चित करें कि हर लंगर को सीसीटीवी और उचित प्रकाश व्यवस्था से सुसज्जित किया जाए। उन्होंने लंगरों को अनुमति देने की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए कहा। कर्मचारियों को पहचान प्रमाण प्रदान करने पर, उपायुक्त ने संबंधित विभागों को निर्देश दिया कि वे यात्रा के समय कर्मचारियों को असुविधा से बचने के लिए उनके बीच बेहतर सहयोग सुनिश्चित करें। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रत्येक शिविर में तीन डॉक्टरों पर आधारित स्वास्थ्य टीम यात्रावधि के दौरान 24 घंटे उपलब्ध रहेगी। उपायुक्त ने अधिकारियों की टीम के साथ भगवती नगर में यात्री निवास का भी दौरा कर प्रबंध जांचे।

साधुओं का पंजीकरण 29 से होगा

साधुओं का पंजीकरण राम मंदिर में ही 29 जून से आरंभ होगा। बाबा अमरनाथ यात्रा के लिए जम्मू पहुंचे साधु बी रामदास ने बताया कि तीसरी बार वह यात्रा पर आए हैं। बाबा अमरनाथ यात्रा करने में जो आनंद है, वह कहीं और नहीं। इसलिए बार बार यहां पर आने का मन करता है। वहीं, पंजाब से आए राकेश कुमार का कहना है कि उनका प्रयास रहेगा कि वह पहले जत्थे में शरीक हो। इसलिए दो दिन पहले ही जम्मू पहुंच गए थे। राम मंदिर व गीता भवन आने वाले साधु सुबह शाम पूजा अर्चना कार्यक्रम मे भी शरीक हो रहे हैं। बम बम भोले के जयकारे लगाकर वातावरण को भक्तिमय बना रहे हैं।

जम्मू और आगरा के बीच विशेष रेलगाड़ी

अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जम्मू तवी रेलवे स्टेशन से आगरा के बीच विशेष रेलगाड़ी चलेगी। यह रेलगाड़ी पांच जुलाई से आगरा कैंट से शुरू होकर 27 जुलाई तक कुल चार फेरे लगाएगी। वापसी में यह रेलगाड़ी छह जुलाई को जम्मू तवी रेलवे स्टेशन से चलेगी और 27 जुलाई तक कुल चार फेरे लगाएगी। रेलगाड़ी संख्या 04193 आगरा कैंट से प्रत्येक शुक्रवार को सुबह 10:40 बजे चलकर शनिवार सुबह 01:25 बजे जम्मू रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। वहीं, जम्मू से रेलगाड़ी संख्या 04194 प्रत्येक शनिवार को सुबह 05:60 बजे चल कर आगरा कैंट में रात नौ बजे पहुंचेगी। रास्ते में यह लुधियाना, अंबाला, दिल्ली सफदरजंग, पलवल, मथुरा जंक्शन में ठहरेगी।

अमरनाथ के दौरान चचीकूट में नहीं लगेगा टोल टैक्स

बाबा अमरनाथ यात्रा के दौरान जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चचीकूट टोल प्लाजा पर किसी भी वाहन को टोल टैक्स नहीं देना पड़ेगा। कश्मीर के डिवीजनल कमिश्नर बसीर अहमद खान ने सभी संबधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अमरनाथ यात्रा के दौरान किसी भी वाहन से चचीकूट टोल प्लाजा पर टोल टैक्स नहीं लिया जाए। यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि बाबा अमरनाथ यात्रा के श्रद्धालुओं का काफिले बिना किसी परेशानी के गुजर सकें। संबधित डिप्टी कमिश्नरों से कहा गया है कि वे इस आदेश को पूरी तरह से प्रभावी बनवाए। उन्होंने कहा कि अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं आने दी जाएगी। उनकी सुविधाओं पर नजर रखने के लिए अधिकारियों को तैनात किया गया है। हाईवे पर हर जगह सुरक्षा मिलेगी।

 यात्रियों की सुविधा के लिए रिसेप्शन सेंटर बना

अमरनाथ यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए रेलवे पुलिस ने ज्वाइंट रिसेप्शन कम फैसिलिटेशन सेंटर स्थापित किया है। इसका उद्धाटन एसएसपी रेलवे रंजीत संब्याल ने किया। इस सेंटर में अनाउंसमेंट सिस्टम, फस्र्ट एड बॉक्स, पानी, व्हील चेयर, रेड क्रास और चाइल्ड लाइन के सदस्य मौजूद रहेंगे। एसएसपी रेलवे रंजीत संब्याल ने बताया कि इस सेंटर में हर समय दो एएसआई उपलब्ध रहेंगे। रेलवे पुलिस का बैनर भी लगाया जाएगा। सेंटर में वायरलेस ऑपरेटर के अलावा महिला पुलिस कर्मी भी तैनात रहेंगी। उन्होंने बताया कि सेंटर से अमरनाथ यात्रियों को यात्रा के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। उन्हें रूटों के बारे में भी बताया जाएगा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस