श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद से कश्मीर में आतंकी जान बचाने के लिए छिपते फिर रहे हैं और पाकिस्तान हताश है। वादी में अंतिम सांसे ले रहे आतंकवाद को पुर्नजीवित करने के लिए पाकिस्तान ने अब नारको टेररिज्म की बड़ी साजिश रची है। पाकिस्तान की सेना और खुफिया एजेंसी आइएसआइ हथियारों और आर्थिक तंगी से जूझ रहे आतंकियों के लिए सीमा पार से गोलाबारूद और पैसे के साथ-साथ नशीले पदार्थ भी भेज रही है। इसका खुलासा मंगलवार को जम्मू कश्मीर पुलिस ने किया। पुलिस ने उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले में एलओसी के साथ सटे उड़ी सेक्टर में छह किलोग्राम नशीले पदार्थ, एसाल्ट राइफल के 900 से ज्यादा कारतूस, तीन मैगजीन और 3.28 लाख रुपये की भारतीय करेंसी बरामद की है। इस मामले में पुलिस ने एक महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि यह नशीला पदार्थ उड़ी सेक्टर में कमलकोट गांव से आगे एलओसी के साथ सटे दुलांजा गांव में तस्करी कर लाया गया था। इससे पहले कि यह नशीला पदार्थ और कारतूस वादी के भीतरी इलाकों में पहुंचते, पुलिस को इसकी भनक लग गई।

एसएसपी बारामुला अब्दुल्ला क्यूम के अनुसार, यह अभियान सोमवार रात शुरू किया गया था। इस मामले में दो लोग पकड़े गए हैं। आरोपित युवक हसीब उड़ी का रहने वाला है, जबकि महिला दुलांजा गांव की रहने वाली है। पुलिस दल ने रात को हसीब पर नजर रखी थी। सुबह जब वे दोनों नशीले पदार्थों की खेप व हथियारों का जखीरा लेने पहुंचे तो पुलिस ने दोनों को मौके पर ही दबोच लिया। इनके पास से दो किलो के लिफाफों में सीलबंद ब्राउन शुगर बरामद की गई। एसएसपी ने कहा कि यह नशीला पदार्थ भूरे रंग का है, इसलिए हम इसे ब्राउन शुगर मान रहे हैं। फिलहाल जांच जारी है। इसके बाद जब पुलिस ने दोनों से पूछताछ की तो महिला ने अपने घर के पास बने मवेशियों के बाड़े में छिपाकर रखी और दो किलो ब्राउन शुगर की जानकारी दी, जिसे जब्त कर लिया गया।

पुलिस ने महिला के घर से 3.28 लाख रुपये नकदी भी बरामद की है। महिला और उसके साथी ने गांव के साथ सटे जंगल में भी नशीले पदार्थों के साथ हथियारों की एक खेप के छिपाए जाने की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और करीब दो किलो हेरोइन बरामद की। एसएसपी ने बताया कि हथियारों के जखीरे में एसाल्ट राइफल की तीन मैगजीन व 900 से ज्यादा कारतूस शामिल हैं।

नशीले पदार्थों के पैकेटों पर पाकिस्तान की मुहर

एसएसपी बारामुला ने बताया कि नशीले पदार्थ के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि बरामद नशीले पदार्थ के पैकेटों पर पाकिस्तान की मुहर लगी हैं। बरामद कारतूसों के डिब्बों पर भी पाकिस्तानी मार्का लगा हुआ है। फिलहाल, महिला व उसके साथी से पूछताछ जारी है। इनके साथियों का पता लगाने के लिए पूरी छानबीन की जा रही है। यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि नशीले पदार्थ की खेप कश्मीर से बाहर कहां और किसके पास किस तरीके से जानी थी। इसके अलावा हथियारों को वादी में किसे सौंपा जाना था। फिलहाल, दोनों के खिलाफ उड़ी पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर जांच जारी है। 

 ये हुआ बरामद :

  • चार किलो ब्राउन शुगर 
  • दो किलो हेरोइन 
  • 900 से ज्यादा कारतूस
  • तीन मैगजीन
  • 3.28 लाख रुपये

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप