संवाद सहयोगी, सांबा : कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन ने मजदूरी कर जीविका चलाने वाले लोगों के सामने संकट पैदा कर दिया था। ऐसे ही लोगों के लिए सरकार द्वारा मनरेगा के कार्य फिर से शुरू करने से काफी राहत मिली है। ग्रामीणों की आमदनी बढ़ी है।

सांबा जिला में 9 ब्लॉक हैं। सभी ब्लॉक में मनरेगा के काम शुरू हुए हैं। जिला में 180 काम शुरू करवाए गए हैं। इन कार्यो के लिए 16 हजार 200 मजदूरों को रोजगार मुहैया हुआ है। मुंह को मास्क बांधे व शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए मजदूर काम कर रहे हैं। पहले मनरेगा के तहत काम करने वाले मजदूरों को 189 रुपये प्रतिदिन मिलते थे जो बढ़ कर 204 रुपये हो गए हैं। जिला में इन दिनों कई तालाबों में काम चल रहा है। नहरों की सफाई भी मरनेगा के तहत चल रही है।

------------------

-जिला सांबा में मनरेगा के तहत मजदूरों के काम का 89 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लिया है। पूरे जिला का लक्ष्य 20 हजार लोगों को रोजगार मुहैया करवाना था। अभी तक 89 प्रतिशत पूरा कर लिया है। पूरे जम्मू-कश्मीर में सांबा का मनरेगा को लेकर बेहतर प्रदर्शन चल रहा है।

-सिद्धार्थ दिमन, असिस्टेंट कमिश्नर 120 परिवारों को मिला रोजगार

संवाद सहयोगी, रामगढ़ : सब सेक्टर रामगढ़ में बहने वाली छोटी नहरों की सफाई का काम मनरेगा के तहत करवाए जाने से हजारों मजदूरों को रोजगार मिल गया है। पंचायत हल्का घौ-ब्राहम्णां में 120 परिवार अपने गृह क्षेत्र में रहकर काम करते हुए आर्थिक तंगी से निजात पा रहे हैं। छोटी नहरें, सूए व खालों की सफाई के लिए मनरेगा कारगार सिद्ध हो रहा है। श्रमिक दर्शन लाल ने कहा कि उनको रोजगार का अवसर मिला है। इससे परिवार का गुजारा चलाना आसान होगा। अभिष शर्मा ने कहा कि रोजगार मिलने से खुशी है। अजीत पाल शर्मा ने कहा कि सरकारी नीतियों के अनुसार मनरेगा मजदूरों के हित में लागू किया है, उससे आर्थिक तंगी दूर होगी। सरपंच राम पाल शर्मा ने कहा कि उनके पंचायत हल्के में 120 मजदूर परिवारों को रोजगार का मिला है। बिश्नाह क्षेत्र के 10 पंचायतों में काम

संवाद सहयोगी, बिश्नाह : मनरेगा के तहत बिश्नाह विधानसभा क्षेत्र के ब्लॉक अरनिया की 10 पंचायतों में कार्य शुरू हुए हैं। 20 लाख की लागत से खेतों में पानी पहुंचाने के चैनल, खाल बनवाए जा रहे हैं। यह सारे कार्य ब्लॉक डेवलपमेंट अधिकारी अरनिया अफसान हमाल की देखरेख में किए जा रहे हैं। ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिस कार्यालय के कर्मचारी चंदन डोगरा ने बताया कि अरनिया ब्लॉक में कुल 10 पंचायतें हैं और हर पंचायत में मनरेगा के तहत तीन-तीन विकास कार्य चल रहे हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस