श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। दक्षिण कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा का एक आतंकी वीरवार को आतंकवाद छोड़ मुख्यधारा में लौट आया। परिजनों और पुलिस के आपसी तालमेल के चलते वीरवार को आत्मसमर्पण किया। एक सप्ताह पूर्व हिजबुल मुजाहिदीन के एक आतंकी ने बीएसएफ के समक्ष आत्मसमर्पण किया था।

जानकारी के अनुसार, जिला पुलवामा में अवंतीपोर में रहने वाला युवक 24 नवंबर को लश्कर में शामिल हुआ था। आतंकियों से मिलने की जानकारी मिलते ही परिजनों ने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने तुरंत वापस लाने के प्रयास शुरू कर दिए। युवक को मुख्यधारा में शामिल करने के लिए परिजनों, दोस्तों की भी मदद ली गई। करीब पांच दिन पहले उससे संपर्क हुआ।

संबंधित अधिकारियों ने बताया कि युवक ने आतंकी संगठन में शामिल होने के बाद जिहाद और आजादी के नारे की हकीकत को करीब से देखा व समझा। उसने मुख्यधारा में लौटने की इच्छा जताई। पुलिस पहले इसके लिए प्रयास कर रही थी। पुलिस ने परिजनों के साथ मिलकर उसके सरेंडर को यकीनी बनाया। युवक ने अवंतीपोर में पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि युवक के खिलाफ फिलहाल कोई बड़ा मामला दर्ज नहीं है। उसके खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं होगी। आवश्यक कानूनी औपचारिकताओं को पूरा करते हुए उसे परिजनों के हवाले कर दिया जाएगा। उसकी काउंसिलिंग की प्रक्रिया शुरू की गई है ताकि वह फिर सामान्य जनजीवन में शामिल होने में किसी तरह की दिक्कत न हो। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस