श्रीनगर, [ राज्य ब्यूरो]। सेना ने शुक्रवार को उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे उड़ी (बारामुला) सेक्टर में एक अग्रिम चौकी पर पाकिस्तानी सेना  के बैट (बार्डर एक्शन टीम) के हमले को नाकाम बनाते हुए दो हमलावरों को मार गिराया। अन्य हमलावर जान बचाते हुए वापस भाग गए। फिलहाल, सेना ने पूरे इलाके में सघन तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है। 

 यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि उड़ी सेक्टर में इसी माह पाकिस्तान की तरफ से दो बार आतंकियों ने घुसपैठ का प्रयास किया। लेकिन दोनों ही बार उन्हें मुंह की खानी पड़ी। अलबत्ता, बीते दो माह के दौरान उड़ी सेक्टर में पाकिस्तानी सेना के बैट दस्ते का यह पहला हमला था, जिसमें उसे मुंह की खानी पड़ी है। 

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बैट हमले की पुष्टि करते हुए कहा कि सतर्क जवानों ने पाकिस्तानी हमलावरों का वापस मार भगाया है। दो हमलावर मारे गए हैं और उनके शव वहीं एलओसी पर नौ मैन्स लैंड में पड़े हैं। 

उड़ी स्थित संबधित सूत्रों ने बताया कि यह बैट हमला आज सुबह चौकस और कीकर चौकी के बीच से बहने वाले एक नाले के पास बनी निगरानी पोस्ट पर हुआ था। लेकिन निगरानी पोस्ट और उसके पास ही नाका लगाकर बैठे जवानों ने बैट दस्ते के हमले का मुंह तोड़ जवाब दिया। 

उन्होंने बताया कि हमलावरों की संख्या पांच से सात थी। जवानों की जवाबी कार्रवाई में बैट दस्ते के पांव जल्द उखड़ गए और  उसे वापस भागना पड़ा। जवानों ने बैट दस्ते का पीछा भी किया और दो हमलावरों को मार गिराया। बैट के कुछ अन्य सदस्य जख्मी भी हुए हैं। 

इस हमले के बाद उड़ी सेक्टर के अंतर्गत गुलमर्ग व रामपुर सब सेक्टर में ही नहीं नौगाम,हंदवाड़ा,मच्छल,करनाह व टंगडार व गुरेज में भी चौकसी बड़ा दी गई है। फिलहाल, उड़ी सेक्टर में जहां यह हमला हुआ है, उस पूरे इलाके में सेना के जवानों ने सघन तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है। 

यह भी पढ़ें:  कश्मीर समस्या के हल के लिए सभी पक्षो से हो वार्ता

यह भी पढ़ें:  पीएम की उपलब्धियां बहुत पर कश्मीर अभी भी काला धब्बा: उमर अब्दुल्ला

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस