जम्मू, जेएनएन। पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया, जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया। अधिकारी ने बताया कि नियंत्रण रेखा पर सुंदरबनी सेक्टर में करीब 6.30 बजे पाकिस्तान की ओर से मोर्टार दागे गए और छोटे हथियारों से गोलीबारी की गई। जानकारी अनुसार नियंत्रण रेखा के साथ सुंदरबनी सेक्टर के केरी बटाल में गोलीबारी में पाकिस्तान सेना द्वारा संघर्ष विराम उल्लंघन में सेना का एक जवान शहीद हो गया है। 

नियंत्रण रेखा पर सुंदरबनी सेक्टर में पाकिस्तान सेना के संघर्ष विराम उल्लंघन में राइफलमैन करमजीत सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई। 24 वर्ष के राइफलमैन करमजीत सिंह जनेर गांव, तहसील धरम कोट, जिला मोगा से थे और उनके माता-पिता जीवित हैं। राइफलमैन करमजीत सिंह एक बहादुर और ईमानदार सैनिक थे। 

जानकारी हो कि पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया, जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया। पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत द्वारा 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आंतकी संगठन जैश-ए- मोहम्मद के आतंकी कैंपों पर किये गए हवाई हमले के बाद से दोनों देशों के बीच सीमा पर तनाव बढ़ा है।

गौरतलब है कि इसके बाद से पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम के उल्लंघन की घटनाओं में एक ही परिवार के तीन सदस्यों समेत चार नागरिकों की मौत हो चुकी है। दर्जनों गांवों को निशाना बनाकर की गई संघर्ष विराम की 100 से ज्यादा इन घटनाओं में सैकड़ों लोग घायल भी हुए हैं। 

Posted By: Preeti jha