जम्मू, जेएनएन। बर्फबारी और भूस्खलन के कारण पिछले दो दिनों से बंद जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग वीरवार को एक तरफा वाहनों के लिए खोल दिया गया। ट्रैफिक विभाग फिलहाल अभी हाइवे पर फंसे वाहनों को निकाल रहा है। हालांकि इस बीच छोटे वाहनों को भी छोड़ा जा रहा है। दो दिनों से हाइवे बंद रहने की वजह से पांच हजार से अधिक वाहन हाइवे पर फंस गए थे। दोपहर बाद हाइवे पर वाहनों को उतरने की अनुमति मिलने पर ट्रक ड्राइवरों व अन्य वाहन चालकों ने राहत की सांस ली।

आज श्रीनगर से जम्मू के लिए वाहन छोड़े गए हैं।

ट्रैफिक विभाग ने कहा कि गत मंगलवार मौसम खराब होने की वजह से जवाहर टनल पर बर्फ इकट्ठा हो गई थी जबकि बारिश की वजह से रामबन और बनिहाल के बीच कई जगह भूस्खलन हो गया था। बर्फ व मलवा हटाने का काम युद्ध स्तर पर जारी था। वीरवार सुबह प्रशासन से क्लीयरेंस मिलते ही ट्रैफिक विभाग ने श्रीनगर से जम्मू आ रहे कमर्शियल वाहनों को छोड़ दिया। हालांकि इस बीच छोटे वाहनों को भी जाने की अनुमति दी जा रही है।

कश्मीर को दूसरे राज्यों से जोड़ने वाले इस एकमात्र हाइवे के बंद होने से लखनपुर से लेकर रामबन और श्रीनगर से लेकर बनिहाल तक पांच हजार से अधिक वाहन फंसे हुए थे। ट्रैफिक विभाग का कहना है कि यदि मौसम इसी तरह साफ रहता है तो शुक्रवार शाम तक सभी फंसे वाहनों को निकाल दिया जाएगा। इसके बाद नए वाहनों को सड़कों पर उतरने की अनुमति दे दी जाएगी। अधिकारी ने यह भी बताया कि जवाहर टनल पर करीब एक फुट बर्फ जम चुकी थी। जबकि बारिश की वजह से पनथियाल और रामसू के बीच पहाड़ों से लगातार मलवा गिर रहा था और बड़े-बड़े पत्थर भी गिर रहे थे।

पंथियाल में भूस्खलन की चपेट में आने से गत बुधवार को एक युवक की मौत भी हो गई थी।

 

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस