Move to Jagran APP

Jammu Kashmir: डोडा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, दोनों तरफ से हो रही गोलीबारी

कठुआ में सैन्य वाहनों पर आतंकी हमले के अगले दिन मंगलवार को डोडा जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। दोनों तरफ से गोलीबारी जारी है। सुरक्षाबलों ने जंगल में घेराबंदी कर ली है। आतंकियों की संख्या दो से तीन बताई जा रही है। सेना सीआरपीएफ एसओजी और जिला पुलिस ने जंगल को चारों तरफ से घेर तलाशी अभियान शुरू कर दिया।

By Jagran News Edited By: Jeet Kumar Wed, 10 Jul 2024 02:06 AM (IST)
डोडा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी

जागरण संवाददाता, भद्रवाह। कठुआ में सैन्य वाहनों पर आतंकी हमले के अगले दिन मंगलवार को डोडा जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। दोनों तरफ से गोलीबारी जारी है। सुरक्षाबलों ने जंगल में घेराबंदी कर ली है। आतंकियों की संख्या दो से तीन बताई जा रही है। जिला मुख्यालय से 21 किलोमीटर दूर सज्जान और प्रसिद्ध पर्यटक स्थल लाल द्रमण के बीच गोली गद्दी से पांच किमी दूर जंगल में मुठभेड़ जारी है।

एजेंसियों को सूचना मिली थी कि इस घने जंगल में कुछ संदिग्ध लोग घूम रहे हैं। इस पर सेना, सीआरपीएफ, एसओजी और जिला पुलिस ने जंगल को चारों तरफ से घेर तलाशी अभियान शुरू कर दिया।

देर शाम सुरक्षाबलों को देख आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। एक स्थानीय व्यक्ति ने कहा कि लगातार गोलियों की आवाज सुनाई दे रही है। इससे जंगल से सटे आबादी वाले क्षेत्र में गांववासी डरे हुए हैं। वहीं, पुलिस व सेना के अधिकारियों ने चुप्पी साध रखी है।

पुंछ में दो बार ड्रोन ने की घुसपैठ, गोलीबारी कर खदेड़ दिया

जम्मू संभाग के पुंछ में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार कर दो बार पाकिस्तानी ड्रोन ने घुसपैठ करने की कोशिश की। सतर्क सेना के जवानों ने दोनों बार भारतीय क्षेत्र में मंडारते ड्रोन पर ताबड़तोड़ गोलीबारी की। इसके बाद ड्रोन वापस सीमा पार चले गए।

अधिकारियों ने बताया कि कृष्णा घाटी सेक्टर में रात करीब 9:15 बजे एक पाकिस्तानी ड्रोन की हरकत देखी। तुरंत अधिकारियों को सूचित किया। उसे गिराने के लिए जवानों ने गोलीबारी की। आधे घंटे के अंतराल में एक और पाकिस्तानी ड्रोन को भारतीय क्षेत्र में घुसते देखा गया और फिर गोलीबारी की, जिसके बाद वह लौट गया।

सीमा पार से हथियार और नशीले पदार्थ गिराने की आशंका को देखते हुए सुबह पूरे इलाके की घेराबंदी कर पुलिस के एसओजी दल और सेना ने साझा तलाशी अभियान शुरू किया।