जम्मू, राज्य ब्यूरो : जम्मू कश्मीर में ड्यूटी पर लौटने वाले सेना और केंद्रीय सुरक्षा बलों के कर्मियों को जम्मू कश्मीर प्रशासन ने राहत प्रदान की है। सेना और केंद्रीय सुरक्षा बलों के कर्मियों को प्रशासन की तरफ से सौ प्रतिशत आवश्यक टेस्ट से छूट मिलेगी और प्रशासन की तरफ से उन्हें क्वारंटाइन भी नहीं किया जाएगा। सैन्य और सुरक्षा बलों के कर्मियों को अपनी-अपनी यूनिट में जाने दिया जाएगा। वहां पर वे क्वारंटाइन होंगे। यह आदेश मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रह्मण्यम की तरफ से जारी किया गया है।

सरकार ने बाहरी राज्यों से आने वाले सभी लोगों से कोरोना से बचाव के लिए उठाए जा रहे कदमों में सहयोग देने को कहा है। नियमों का पालन न करने पर कार्रवाई की जाएगी। बाहरी राज्यों से बसों, रेल या हवाई मार्ग से आने वाले सभी लोगों को 14 दिन क्वारंटाइन किया जाएगा। सभी के टेस्ट किए जाएंगे। अगर टेस्ट निगेटिव आता है तो संबंधित लोगों को घर भेजा जाएगा और वे अपने घरों में ही क्वारंटाइन होंगे। अगर टेस्ट पॉजिटिव आता है तो उन्हें अस्पताल में भेजा जाएगा।

जिन लोगों को क्वारंटाइन में छूट मिलेगी उनमें गर्भवती महिलाओं, कैंसर मरीज, सर्जरी के बाद अस्पताल से छुट्टी पाने वाले मरीज, डायालिसिस मरीज, एक साल से छोटे बच्चे वाली मां, बिना अभिभावकों के सफर कर रहे दस साल से कम आयु का बच्चा, सरकार की ड्यूटी पर जाने वाला कर्मी और जिसके पास निगेटिव टेस्ट की रिपोर्ट होगी को शामिल किया गया है। इन सब के लिए डाक्टर का वैध प्रमाणपत्र होना चाहिए। रेड या ऑरेज जोन से जम्मू कश्मीर में प्रवेश करने वाले लोगों को क्वारंटाइन किया जाएगा।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस