आरएसपुरा, जेएनएन। जम्‍मू कश्‍मीर में सीमा सुरक्षा बल की पोस्ट से सोमवार देर रात घुसपैठ करने वाले पाक नागरिक ने खुलासा किया कि उसे पाकिस्तान में जान पर खतरा था। इसलिए वह भारत में शरण लेने के लिए आया है। यह बातें उसने सीमा सुरक्षा बल सहित विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों की पूछताछ के दौरान बताई है। हालांकि आज सीमा सुरक्षाबल के जवानों ने पाक नागरिक को जम्मू कश्मीर पुलिस के हवाले कर दिया है। पुलिस अपने तौर पर जांच प्रक्रिया को आगे बढ़ाएगी।

यह पाक नागरिक मंगलवार को सीमा सुरक्षा बल के जवानों द्वारा पकड़ा गया था। सीमा सुरक्षा बल की 36वीं वाहिनी के जवानों ने नवांपिंड पोस्ट से तारबंदी के पास पहुंच चुके पाक नागरिक को हिरासत में लिया था। पूछताछ में उसने अपनी पहचान हसनैन फारूक पुत्र रहमतुल्ला निवासी गौहादपुर, सियालकोट के रूप में बताई थी।

सुरक्षा बल के जवानों से शरण देने की लगाई थी गुहार पाक नागरिक ने पूछताछ के दौरान बताया कि कुछ समय पूर्व उसकी पत्नी ने उसे तलाक दे दिया है। उसे डर सता रहा है कि कहीं उसकी पत्नी या फिर उसके सगे भाई उसको जान से न मार दें।

पाक नागरिक ने बताया कि उसके चार बच्चे भी हैं, जो उसकी पत्नी के साथ रहते हैं। तलाशी लेने पर उसके कब्जे से एक नोकिया का मोबाइल फोन, दो सिम कार्ड व एक डॉक्टर की पर्ची के साथ टेंशन कम करने वाली कुछ गोलियां मिली हैं। उसने बताया कि उसे पाकिस्तान में बहुत डर लग रहा था, इसलिए उसने भारतीय सीमा के पास आकर सुरक्षा बल के जवानों से शरण देने की गुहार लगाई थी।

सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार, पाक नागरिक की दिमागी हालत ठीक नहीं

पाक नागरिक ने यह भी बताया कि वह क्रिकेट का बहुत दीवाना है और भारतीय स्टार बल्लेबाज विराट कोहली उसका पसंदीदा खिलाड़ी है। विराट कोहली के मैच को देखने के लिए वह वर्ष 2006 में मोहाली में भारत-पाक मैच देखने के लिए आ चुका है।

सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार पकड़े गए पाक नागरिक की दिमागी हालत ठीक नहीं है। इसलिए वह भारतीय सीमा में घुस आया है। उन्होंने किसी आतंकी घटना से इसका संबंध होने से इन्कार किया है, पर पूछताछ जारी है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप