राजौरी, जागरण संवाददाता : राजौरी शहर से मात्र 10 किलोमीटर की दूरी पर उज्जान कस्सियां में बहने वाली दरहाली नदी का एक हिस्सा सूखने पर उसमें चट्टान की एक शिला निकली जिस पर तीन शिवलिंग हैं। साथ एक मूर्ति भी बनी हुई है। यह किस देवता की है अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। एक अन्य बड़े पत्थर के ऊपर गणेश भगवान की मूर्ति भी है। लोग इस स्थल के दर्शन करने पहुंच रहे हैं।

उज्जान कस्सियां गांव के शहदाब अहमद शाह का कहना है कि वर्ष के साढ़े 11 माह इस नदी में पानी काफी रहता है, लेकिन गर्मी अधिक होने के कारण इन दिनों 10 से 15 दिन नदी का पानी काफी कम हो जाता है। नदी के एक हिस्से में पानी कम होने पर इसमें एक चट्टान निकली है जिसमें बीच में तीन शिवलिंग हैं। इस संबंध में हिंदू भाइयों को सूचित करने के साथ साथ प्रशासन को जानकारी दी है।

राजौरी से देखने पहुंचे अशोक शर्मा ने कहा कि चट्टान पर तीन पिंडियां देखने में शिवलिंग लग रही है, लेकिन यह मां लक्ष्मी, सरस्वती व मां दुर्गा की भी हो सकती हैं। प्रशासन जांच करवाए तभी यह पता चल सकता है कि यह मंदिर किस देवी-देवता का है और कितना पुराना है।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में पांडव भी आए क्या यह पांडवों द्वारा बनाया गया मंदिर हो सकता है। अब जांच के बाद पता चल पाएगा। जैसे ही यह समाचार राजौरी कस्बे व उसके आसपास के इलाकों में पहुंचा तो शिवलिंग के दर्शनों के लिए लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा। आज सुबह से भी लोग इस चट्टान पर बने शिवलिंग के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। वहीं विश्व हिंदू परिषद के वरिष्ठ नेता करण ठाकुर, नवीन महाजन का कहना है कि जल्द ही क्षेत्र का दौरा करके मंदिर में पूजा अर्चना की जाएगी। प्रशासन फिलहाल इस मंदिर की सुरक्षा करे।  

Edited By: Rahul Sharma