श्रीनगर, जेएनएन : कश्मीर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल गुलमर्ग, बाबा अमरनाथ की पवित्र गुफा समेत ऊंचाई वाले इलाकों में सोमवार को मौसम की पहली बर्फबारी हुई। लद्दाख के पहाड़ भी बर्फ की सफेद चादर से ढक गए हैं। दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में इस बर्फबारी के बाद न्यूनतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। यही नहीं बर्फबारी और बारिश के कारण उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे गुरेज सेक्टर का जिला मुख्यालय बांडीपोर समेत वादी के अन्य सभी प्रमुख शहरों से सड़क संपर्क कट गया है। 

मौसम विभाग ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि श्रीनगर-लेह मार्ग पर स्थित जोजिला दर्रा, गुलमर्ग स्की रिसॉर्ट और अन्य ऊंचाई वाले इलाकों में अच्छी बर्फबारी हुई है। इसके अलावा राजदान पास में हिमपात के कारण बांडीपोर-गुरेज सड़क को आम वाहनों की आवाजाही के लिए बंद करना पड़ा है। राजदान पास पर करीब आठ इंच हिमपात हुआ है। एसडीएम गुरेज डॉ मुदस्सर अहमद ने बताया कि राजदान पास पर हिमपात के कारण सड़क को मौसम के साफ होने तक आम वाहनों की आवाजाही के लिए बंद किया गया है। 

इसके अलावा जिला अनंतनाग में स्थित बाबा अमरनाथ की पवित्र गुफा पर भी ताजा बर्फबारी हुई है। पवित्र गुफा के आसपास का पूरा स्थल सफेद चादर से ढक गया है। घाटी के पहाड़ों पर पड़ी बर्फबारी हरेक को आकर्षित कर रही है। पर्यटन स्थल गुलमर्ग की खूबसूरती बढ़ गई है। घाटी में घूमने आए पर्यटक गुलमर्ग में पड़ी बर्फबारी का मजा उठाते हुए देखे जा सकते हैं।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इस बर्फबारी के बाद पूरे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में न्यूनतम तापमान गिर गया। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस, पहलगाम में 6.7 और गुलमर्ग में 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं लेह में यह 5.6 और द्रास शहर में 3.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। इस बीच, जम्मू में रात को चली तेज हवाएं व कुछ इलाकों में हुई बारिश केे बाद न्यूनतम तापमान 20.1 पहुंचा गया। वहीं कटरा का तापमान 15.8, बटोत का 9.1, बनिहाल का 8.0 जबकि भद्रवाह का तापमान 9.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि दोपहर बाद मौसम में सुधार होने की संभावना है। उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर पश्चिम से सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ तेजी से जम्मू-कश्मीर की ओर बढ़ रहा है।

Edited By: Rahul Sharma