जम्मू, जागरण संवाददाता। जम्मू पुलिस ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर सिमकार्ड जारी करवाने वाले चार गिराेहों का भंडाफोड़ किया है। गत दिनों पुलिस ने अखनूर में फर्जी दस्तावेज के आधार पर सिमकार्ड जारी करवाने के आरोप में कुछ लोगों को पकड़ा था और उनसे मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने अखनूर, बिश्नाह, बाहुफोर्ट व गांधी नगर में चल रहे इस गोरखधंधे का फंडाफोड़ किया है।

फर्जी सिमकार्ड का यह गोरखधंधा अखनूर में सामने आया जहां पुलिस ने धीरज कुमार, राजेश कुमार व रोहित शर्मा को फर्जी दस्तावेज के आधार पर सिमकार्ड जारी करवाने के आरोप में पकड़ा। जांच के दौरान खुलासा हुआ कि इन्होंने एयरटेल व जियो के कई सिमकार्ड जारी किए है। इन लोगों ने जम्मू-कश्मीर के अलावा बाहरी राज्यों के लोगों को भी फर्जी दस्तावेज के आधार पर सिमकार्ड जारी किए थे।

पूछताछ के दौरान इन आरोपितों ने बिश्नाह में भी इसी तरह के गोरखधंधे के जारी होने की सूचना मिली जिसके आधार पर बिश्नाह पुलिस ने छानबीन की और सुनील सगोत्रा को पकड़ा। उसके कब्जे सेे काफी मात्रा में फर्जी सिमकार्ड बरामद हुए जो स्थानीय निवासियों के अलावा बाहरी राज्यों के लोगों के नाम पर जारी करवाए गए थे। सूचना के आधार पर बाहुफोर्ट पुलिस स्टेशन की भी विशेष टीम गठित की गई और इस टीम ने जांच-पड़ताल के बाद तीन आरोपितों सुभाष, दीपक व मोहन सिंह काे हिरासत में लिया। पूछताछ के दौरान इनके कब्जे से भी काफी संख्या में फर्जी सिमकार्ड बरामद हुए।

फर्जी सिमकार्ड का यह गौरखधंधा गांधी नगर में भी चल रहा था और पुलिस ने गांधी नगर में भी साहिल कुमार निवासी चौआदी को फर्जी सिमकार्ड के साथ गिरफ्तार किया है। जम्मू में चल रहे इस फर्जी सिमकार्ड के गोरखधंधे में पुलिस के हाथ लगे आरोपितों से कई महत्वपूर्ण सुराग मिलने की उम्मीद है और आने वाले दिनों में इस मामले में कई अन्य गिरफ्तारियां भी हो सकती है। 

Edited By: Vikas Abrol