जम्मू, राज्य ब्यूरो:  कश्मीर में भी डेंगू का एक मामला दर्ज हुआ है। शेर-ए-कश्मीर इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल सांइसेस सौरा के अस्पताल में भर्ती 20 साल के युवक में डेंगू की पुष्टि हुई।

अस्पताल प्रशासन के अनुसार, लड़के को बुखार की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उसमें डेंगू की पुष्टि होने के बाद उसे जेवीसी अस्पताल बेमिना में भर्ती किया गया है। युवक हाल ही में चंडीगढ़ से वापस लौटा था। जम्मू संभाग में पहले से ही डेंगू के मामले लगातार आ रहे हैं। अभी तक 480 से अधिक मामले आ चुके हैं। अभी भी हर दिन औसतन दस से पंद्रह लोगों में डेंगू की पुष्टि रही है।

आइइडी की निष्क्रिय

दक्षिण कश्मीर के अनतंनाग जिले के फतेहपोरा क्षेत्र में समय पर एक आइइडी बरामद होने से आतंकियों के एक और घटना को अंजाम देने के मंसूबे विफल हो गए।यह आइइडी फतेहपोरा क्षेत्र के एक नाला के पास लगाई थी। जैसे ही सुरक्षाबलों को आइइडी का पता चला, तुरंत बम निरोधक को बुलाया गया और आइइडी को निष्क्रिय बना दिया गया।

देश विरोधी ताकतों के खिलाफ सांबा में प्रदर्शन

भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच के बाद कुछ असामाजिक तत्वों के पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने व देश विरोधी आचरण अपनाने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सांबा में विरोध प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन की अगुआई करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता विनोद मिश्रा ने कहा कि यह बेहद अफसोसजनक है कि कुछ लोग भारत में रहकर, यहां की तमाम सुख सुविधाएं भोगने के बावजूद आतंकवादी परस्त मुल्कों का समर्थन कर उनकी जीत पर जश्न मना रहे है।

मिश्रा ने कहा कि खेल को खेल भावना से देखा जाना चाहिए चूंकि किसी भी खेल में एक लिए हार और दूसर के लिए जीत होना स्वाभाविक है परंतु इसे मुद्दा बनाकर देश की मर्यादा के खिलाफ कोई भी आचरण बर्दाश्त के काबिल नहीं है। उन्होने मांग की कि ऐसे तत्वों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई कर दंड दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सांबा के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि किसी ने पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया। उन्होंने कहा कि यहां के युवा इस चीज को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। इस अवसर पर सुरिंदर अत्री, सोबत चौधरी, सरपंच बंसीलाल व रमेश कोहली सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

Edited By: Vikas Abrol