राजौरी, जागरण संवाददाता। जिले के कई जंगलों में बीती रात्रि से आग लगी हुई है। आग पर काबू पाने में वन विभाग के कर्मचारियों के साथ साथ ग्रामीण भी जुटे हुए है, लेकिन इसके बावजूद भी आग पर काबू नहीं पाया गया है। आग के कारण वन संपदा भी जलकर राख हो रही है। जिन जंगलों में आग लगी हुई है वह सड़क से दूर है जिस कारण से दमकल वाहनों का पहुंचना संभव नहीं हो पा रहा है और वन विभाग के कर्मचारी व ग्रामीण किसी तरह से आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे है।

बीती रात्रि से बाई नाला, मुबारकपुरा, मेयाड़ी, झंगड़, केसर गाला आदि जंगलों में आग लगी हुई है और यह आग बड़ी ही तेजी के साथ आगे बढ़ रही है। क्योंकि बीच बीच में चल रही तेज हवाएं आग में घी का काम कर रही है। पर अभी तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है।

अधिक चारे की लालच में जंगलों में लगाई जा रही आग

जंगलों के आसपास रहने वाले लोग अधिक चारे के लालच में जंगलों में बिखरे हुए चीड़ के पेड़ के पत्तों को जलाने के लिए आग लगाते है, लेकिन यह आग पेड़ों तक भी पहुंच जाती है और इसके बाद आग जंगल में फैल जाती है और कुछ ही समय में यह आग अधिकतर जंगल को अपने चपेट में ले लेती है।

हर वर्ष आग से होता है करोड़ों रुपए की वन संपदा का नुकसान

हर वर्ष गर्मी के मौसम में जंगलों में आग लगती है और इस आग की चपेट में आने से करोड़ों रुपए की वन संपदा जल कर राख हो रही है। इस आग की चपेट में आने से चीड़ के बड़े बड़े पेड़ जलकर गिर रहे है। जिससे विभाग का काफी नुकसान हर वर्ष होता है।

विभाग द्वारा किए गए सभी प्रयास हो गए विफल

गर्मी शुरू होने से पहले से वन विभाग के कर्मचारियों व अधिकारी ने गांव गांव जाकर लोगों को जागरूक करने का कार्य शुरू कर दिया था कि जंगलों में आग न लगाए अगर आग लग जाती है तो उसे समय रहते विभाग को सूचित करे और आग पर काबू पाने का प्रयास करे। पर ऐसे कुछ भी नहीं हुआ आग को आगे बढ़ने से रोकने के लिए कोई भी फायर लाइन बनाई गई और न ही कोई और उपाय किया गया।

क्या कहते है अधिकारी

वन विभाग के डिवीजन वन अधिकारी राकेश कुमार सराफ का कहना है कि जिन जंगलों में आग लगी हुई है उन जंगलों में आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। सड़क से जंगलों का दूर होने के कारण दमकल वाहन नहीं पहुंच पाते है। हम कर्मचारी व ग्रामीण आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे है।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप