जागरण संवाददाता, जम्मू : सिविक सफाई कर्मचारी यूनियन ने नौकरी से निकाले गए तीन एनजीओ सफाई कर्मियों को बहाल करने, सफाई कर्मियों को समय से हर माह वेतन देने, नगर निगम के 33 ड्राइवरों को पक्का करने समेत कई मांगों को लेकर बुधवार को प्रदर्शन किया। यूनियन ने कहा कि यदि नगर निगम ने उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया तो वे इसके लिए आंदोलन का रास्ता अख्तियार करेंगे। प्रदर्शन का नेतृत्व यूनियन के प्रधान रिकू गिल ने किया।

गिल ने कहा कि सफाई कर्मचारियों की हमेशा अनदेखी होती रही है। ऐसे में उनको बार-बार धरना-प्रदर्शन, हड़ताल का सहारा लेना पड़ता है। उन्होंने कहा कि कैजुअल सफाई कर्मियों को एनजीओ की तर्ज पर ईएसआइसी मेडिकल स्कीम के अधीन लाया जाए और कैजुअल व एनजीओ सफाई कर्मियों को यूटी के नियमों के तहत वेतन दिया जाए। गिल ने कहा कि नगर निगम में सेनेटरी इंस्पेक्टरों की भी काफी कमी है। लिहाजा प्रशिक्षित, डिप्लोमा होल्डर व अनुभवी सेनेटरी सुपरवाइजरों को काम दिया जाए। उन्होंने प्रशासन द्वारा बनाई गई सफाई कर्मचारियों की वरिष्ठता सूची पर भी असंतोष प्रकट किया। कैजुअल व एनजीओ कर्मियों को एक दिन की छुट्टी देने की मांग भी की। गिल ने कहा कि शांतिपूर्वक प्रदर्शन करते हुए हम मांगों को पूरा करने की मांग उठा रहे हैं। ऐसा नहीं होने पर हमें सड़कों पर उतरने को मजबूर होना पड़ेगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस