जम्मू, राज्य ब्यूरो। जम्मू-कश्मीर में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र गुलाम कश्मीर के मीरपुर में झेलम के नजदीक बताया जा रहा है। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.8 थी। जम्मू-कश्मीर के पुंछ, राजौरी, जम्मू और अन्य इलाकों में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटके महसूस होने पर लोग अपने घरों से बाहर आ गए। पुंछ और उड़ी में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हालांकि भूकंप से किसी के हताहत होने या जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है।

जम्मू-कश्मीर भूकंपीय जोन में आता है और यहां पर भूकंप के आने की संभावना बनी रहती है। कश्मीर भूकंपीय क्षेत्र की पांचवीं जोन और जम्मू चौथी जोन में आता है। पिछले दिनों किश्तवाड़, डोडा और रामबन में भी भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं। भूकंप के यह झटके शाम 4.31 मिनट पर महसूस किए गए।  

इस बीच शक्तिशाली भूकंप के झटके से लोग सहम उठे। जैसे ही भूकंप का झटका आया लोग अपने-अपने घरों से बाहर निकलकर खुले में आ गए। ज्ञात रहे कि भूकंप के झटकों के कारण पाकिस्तान के शहर मीरपुर में भारी तबाही हुई है। क्षेत्रवासी जीतराम, जगदीश लाल, रेनु बाला, नरेश कुमारी, रितु कुमारी, सरिता आदि का कहना है कि वह अपने घरों में रोजमर्रा के कामों में व्यस्त थे कि एकाएक भूकंप का झटका लगा और पंखे हिलने लगे। सभी लोग खुले में आ भगवान से प्रार्थना करने लगे कि कहीं फिर से दोबारा कोई एक और झटका ना आ जाए।

समाज सेवक ओम प्रकाश ओम, राकेश कुमार, सुरेंद्र कुमार आदि का कहना है कि कुछ साल पहले भी जम्मू-कश्मीर में भूकंप का तगड़ा झटका आया था जिसमें लोगों को नुकसान भी उठाना पड़ा था भगवान का शुक्र है कि भूकंप के इस बार के झटकों से ज्यादा कोई नुकसान नहीं हो सका है। कुछ लोग गांव कृष्णा नगर में मुख्य नहर के किनारे बैठे हुए थे उनके अनुसार नहर का पानी भी भूकंप के झटके के कारण हिलोरे लेने लगा जिस कारण वह काफी डर गए। इसी बीच काफी देर तक लोग अपने.अपने घरों से बाहर रहे इसके बाद फिर से अपने गौरव के अंदर चले गए। कुल मिलाकर क्षेत्र में कहीं से भी भूकंप के झटकों के कारण नुकसान की कोई भी सूचना नहीं प्राप्त हुई है।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस