जम्मू, जागरण संवाददाता। कौशल विकास विभाग के प्रमुख सचिव डा. असगर हसन समून ने कौशल विकास से युवाओं को रोजगार के साधन उपलब्ध करवाने व उन्हें सशक्त बनाने का आह्वान किया। वीरवार को समून ने इस संदर्भ में एक बैठक का आयोजन किया जिसमें कौशल विकास विभाग के निदेशक सज्जाद हसन गनई व पॉलिटेक्निक व आइटीआइ कालेजों के प्रिंसिपल भी वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जुड़े।बैठक में कौशल विकास को लेकर वार्षिक रिपोर्ट भी पेश की गई जिसमें बताया गया कि वर्ष 2020-21 में 41 करोड़ का फंड जारी किया गया जिसका पचास प्रतिशत जारी प्रोजेक्टों को पूरा करने में खर्च कर दिया गया।

वहीं समून ने बताया कि जम्मू कश्मीर के युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए जम्मू कश्मीर सरकार व टाटा टेक्नालॉजी संयुक्त प्रयास कर रहे हैं जिसके तहत 361 करोड़ रुपये खर्च कर विद्यार्थियों को रोबोटिक्स, इलेक्ट्रिक गाड़ियां आदि बारे प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि विभाग युवाओं को अग्रणी बनाने के लगातार प्रयास कर रहा है। बैठक में बताया गया पिछले वर्ष 500 के करीब पॉलिटेक्निक व आइटीआइ प्रशिक्षत युवाओं को मेगा जॉब फेयर में नौकरियां भी दिलवाई गई। इसके अलावा 3000 हजार विद्यार्थियों को विभिन्न ट्रेड बारे भी प्रशिक्षित किया गया। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप