श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा से सटे उड़ी सेक्टर में पिछले दिनों सौतेली मां और सौतेले भाई की हैवानियत का शिकार हुई नौ वर्षीय मासूम बच्ची का शव शुक्रवार को पुलिस ने कब्र से निकलवाया ताकि उसकी दोबारा जांच की जा सके।

पीडि़ता को उसकी सौतेली मां के सामने ही उसके सौतेले भाई ने अपने दोस्तों संग पहले हवस का शिकार बनाया था। उसके बाद निर्ममता से उसकी हत्या कर दी थी। आरोपितों ने उसकी हत्या के बाद उसके शरीर पर तेजाब फेंकने के अलावा उसकी आंखें भी निकाल ली थी।एसएसपी बारामुला इम्तियाज हुसैन मीर ने बताया कि पांचों आरोपितों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

आज श्रीनगर से फारेंसिक विशेषज्ञों और डॉक्टरों का विशेष दल घटनास्थल पर पहुंचा। इस दल के साथ तहसीलदार और एसडीपीओ भी कब्रिस्तान पहुंचे। गणमान्य लोगों की मौजूदगी में पीडि़ता का शव सावधानीपूर्वक कब्र से निकाला गया और देर शाम जिला अस्पताल बारामुला लाया गया ताकि नए परीक्षण के अलावा फारेंसिक संबंधी कुछ और सुबूत जमा किए जा सकें।

उन्होंने कहा कि शव का पोस्टमार्टम पहले भी हुआ है, लेकिन वह विस्तृत नहीं था। हमें कुछ और तथ्यों का पता लगाना है ताकि अपराधी बच न सकें। इसलिए शव को दोबारा कब्र से निकलवा कर जांच की जा रही है। 

Posted By: Preeti jha