जम्मू, राज्य ब्यूरो । जम्मू-कश्मीर में कोरोना संक्रमण के दौरान एचआर सिटी स्कैन के मनमाने रेट वसूलने की शिकायतों के बाद प्रशासन ने अब इस स्कैन के रेट की फीस तय कर दी है। यह स्कैन अब 1500 से 3000 रुपयों के बीच होगा।

इसका आदेश जम्मू के डिप्टी कमिश्नर अंशुल गर्ग ने सोमवार को जारी कर दिया। कई लोगों ने यह शिकायत की थी कि कोरोना के समय उन्हें जब एचआर सिटी स्कैन के लिए कहा जाता है तो निजी केंद्र चलाने वाले उनसे 4000 से 4500 रुपये वसूल रहे हैं। इसके बाद जम्मू के डिवीजनल कमिश्नर डा. राघव लंगर ने सिटी स्कैन करवाने के रेट तय करने के लिए एक समिति का गठन किया था।

इस समिति में डिवीजनल कमिश्नर कार्याजय में नियुक्त एडिशनल कमिश्नर, स्वास्थ्य निदेशक जम्मू और जीएमसी जम्मू में रेडियालोजी विभाग के एचओडी को शामिल किया गया था। कमेटी ने सभी निजी केंद्रों की स्थिति का जायजा लेने के बाद सिटी स्कैन के लिए रेट निर्धारित करने की प्रशासन को सिफारिश की।

सोमवार को डिप्टी कमिश्नर जम्मू अंशुल गर्ग ने आदेश जारी कर इसे तीन भागों में बांटा है। प्लेन सिटी स्कैन करवाने पर लोगों को सिर्फ 1500 रुपये देने होंगे। वहीं जिन निजी केंद्रों के पास 16 स्लाइस से कम क्षमता की मशीन है, उन्हें एचआर सिटी के लिए 2500 रुपये देने होंगे जबकि जिन निजी केंद्रों के पास 16 स्लाइस से अधिक क्षमता की मशीन है, वह इस टेस्ट के 3000 रुपये ले सकते हैं।

यह रेट तत्काल प्रभाव से लागू कर दिए गए हैं। सभी एसडीएम और तहसीलदार से इस आदेश को लागू करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मरीजों से कहा गया है कि अगर उनसे कोई अधिक रेट लेता है तो इसकी शिकायत की जाए।

Edited By: Vikas Abrol