जम्मू, जेएनएन। दिल्ली में राष्ट्रीय परिषद की 11, 12 जनवरी को होने जा रही बैठक जम्मू-कश्मीर संसदीय चुनाव की दृष्टि से अहम है। इसमें प्रदेश भाजपा को स्पष्ट निर्देश मिलेंगे कि पार्टी चुनाव में कामयाबी के लिए कैसे आगे बढ़ेगी। इसमें संसदीय चुनाव की तैयारियों का रोडमैप भी तैयार होगा। बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान अमित शाह स्वयं करेंगे। प्रदेश भारतीय जनता पार्टी हाईकमान दिल्ली से नए निर्देश लेने के बाद बड़े पैमाने पर चुनावी अभियान छेड़ देगी। पूरी कोशिश होगी कि भाजपा राज्य में तीन संसदीय सीटें जीतकर इतिहास दोहराए।

दिल्ली में भाजपा की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद जम्मू में चुनावी रणनीति को जमीनी सतह पर प्रभावी बनाने के लिए भी बैठक होगी। इसमें जम्मू कश्मीर में संसदीय चुनाव के प्रभारी का जिम्मा संभालने वाले राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना भी हिस्सा लेंगे। बैठक में जम्मू-पुंछ, उधमपुर-डोडा व लद्दाख संसदीय सीट पर मंथन करने के साथ पार्टी के उम्मीदवारों को लेकर सहमति बनाने की प्रक्रिया शुरू होगी। अलबत्ता अंतिम मुहर हाईकमान ही लगाएगा।

प्रदेश भाजपा जम्मू-कश्मीर में मोदी सरकार की उपलब्धियों को लेकर चुनाव मैदान में उतरेगी। ऐसे में पार्टी कार्यकर्ताओं को मनोबल बढ़ाने की दिशा में कोशिशें जारी है। राज्य में संसदीय चुनाव के प्रभारी अविनाश राय खन्ना का कहना है कि कार्यकर्ताओं का मनोबल उंचा है। पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं में बेहतर समन्वय की बदौलत संसदीय व विधानसभा चुनाव में कामयाबी हासिल करेगी। जम्मू-कश्मीर भाजपा के प्रभारी खन्ना ने जागरण को बताया कि वह चुनाव के सिलसिले में 14 जनवरी के बाद जम्मू आएंगे।

संसदीय चुनाव की तैयारियों का रोडमैप तैयार होगा

प्रदेश भाजपा दिल्ली में 11, 12 जनवरी को होने वाली राष्ट्रीय परिषद की बैठक में शामिल होने के लिए तैयार है। दिल्ली में प्रदेश भाजपा की हाईकमान से बड़े पैमाने पर यह पहली बैठक है। इसमें प्रदेश पदाधिकारियों की पूरी टीम के साथ जिला प्रधान व महासचिव भी हिस्सा लेने के लिए जा रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष रविन्द्र रैना के नेतृत्व में प्रदेश भाजपा का दल 10 जनवरी को दिल्ली के लिए रवाना होगा। बैठक में भाजपा के दिग्गजों के जम्मू-कश्मीर दौरों की रूपरेखा भी तय होगी। प्रदेश भाजपा की पूरी काेशिश है कि अधिक से अधिक दिग्गज राज्य आकर चुनाव में कामयाबी की जमीन तैयार करें। जनवरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व फरवरी में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह राज्य में आएंगे। प्रधानमंत्री जम्मू में एम्स सहित समेत एक दर्जन से अधिक प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखेंगे। वहीं अमित शाह जम्मू शहर में पार्टी के नवरत्नों के संभागीय महासम्मेलन में शामिल होकर चुनाव के लिए शंखनाद करेंगे।

कमेटियां बनाकर चुनाव की तैयारियां तेज करेगी भाजपा

प्रदेश भारतीय जनता पार्टी जम्मू-पुंछ संसदीय क्षेत्र की 20 विधानसभा क्षेत्रों में कमेटियां बनाकर चुनावी तैयारियां तेज करेगी। इन कमेटियों को अलग अलग जिम्मेवारियां दी जाएंगी। यह फैसला भाजपा मुख्यालय में जम्मू-पुंछ संसदीय क्षेत्र चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में हुआ। बैठक की अध्यक्षता संगठन महामंत्री अशोक कौल ने की। बैठक में राज्य महासचिव डा नरेन्द्र सिंह के साथ प्रदेश उपअध्यक्ष अरूण गुप्ता, मीडिया सचिव सूरज सिंह के साथ कमेटी के अन्य सदस्यों संजीव मनमोत्रा, परिमोक्ष सेठ ने बेहतर चुनाव प्रबंधन से पार्टी को कामयाब बनाने के लिए उठाए जा रहे कदमों के बारे में बताया। बैठक में भाजपा के सभी प्रकोष्ठों के प्रभारी स विरेन्द्रजीत सिंह, आईटी प्रभारी जयदेव रजवाल, जिला प्रधान ओमी खजूरिया, राज्य कार्यकारिणी के सदस्य नंद किशोर व ताज खान भी मौजूद थे। तय किया गया कि चुनाव को लेकर लोगों से जुड़ने के लिए मीडिया, सोशल मीडिया का बेहतर इस्तेमाल किया जाएगा। इसके लिए विधानसभा क्षेत्र स्तर तक कमेटियां बनाई जाएंगी। इसके साथ संसदीय क्षेत्र में विभिन्न समुदायों से बेहतर समन्वय बनाकर पार्टी की विचारधारा को प्रोत्साहित करने के लिए भी विशेष प्रयास किए जाएंगे। कौल, नरेन्द्र सिंह ने जोर दिया कि मोदी सरकार की उपलब्धियों को लोगों तक पहुंचाने के लिए भी कार्यकर्ताओं को जी तोड़ मेहनत करने की जरूरत है। इसी बीच चुनाव प्रबंधन समिति के सदस्यों ने संसदीय चुनाव में भाजपा को कामयाब बनाने के लिए जिला स्तर पर किए जा रहे प्रयासों के बारे में भी जानकारी दी। इस दौरान विस क्षेत्र स्तर तक पार्टी की मीडिया, सोशल मीडिया कमेटियां बनाने के लिए जल्द विभिन्न जिलों का दौरा करने पर भी विचार विमर्श किया गया।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस