जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : परिवहन विभाग की बिना इजाजत के अवैध रूप से निजी वाहनों से यात्रियों को ढोने तथा मनमाने किराया वसूलने की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए एआरटीओ ने इस मनमानी को अपने कर्मचारियों की मदद से रंगे हाथों पकड़ा। अवैध रूप से यात्री ढोने तथा अधिक किराया वसूलने वाले पांच हजार रुपये जुर्माना वसूला।

एआरटीओ ऊधमपुर रचना शर्मा ने बताया कि पिछले करीब दस दिनों से कघोट इलाके के लोग उनसे शिकायत कर रहे थे, कि कघोट रामनगर के बीच कई निजी इक्को वैन व मारुति वैन यात्रियों को ढ़ोने का काम कर रही है। इतना ही वह लोगों के मनमाने दाम वसूलती है। इन शिकायतों के आधार पर शनिवार को अवैध तरीके से चलने वाले निजी वाहनों को पकड़ने के लिए विभाग के कर्मचारियों को यात्री बनाया।

यात्री बने विभाग के कर्मचारियों ने वहां पर आई एक इक्को वैन चालक से कघोट से रामनगर चलने के लिए कहा। उसने तीनों से 12 किलोमीटर दूर जाने के लिए 800 रुपये मांगे। इसके बाद वह तीनों उसमें सवार हो गए। रास्ते में एआरटीओ ने नाका लगा कर वाहन को रुकवाया। इस दौरान अवैध रूप से यात्रियों को ढोने तथा 12 किलोमीटर के लिए 800 रुपये किराया मांगने क आरोप में एआरटीओ ने वैन चालक पर कार्रवाई की जिसमें उसका चालान कर पांच हजार रुपये जुर्माना वसूला।

एआरटीओ ने बताया कि इसी तरह की एक शिकायत चिनैनी के घंटवाल से भी आई थी। जिसमें लोगों ने बताया कि चिनैनी से घंटवाल के बीच चलने वाले ऑटो निर्धारित से ज्यादा किराया वसूल रहे हैं। इस पर भी एआरटीओ ने ऑटो चालकों को रंगे हाथ निर्धारित 12 रुपये प्रति यात्री किराये से ज्यादा किराया वसूलते पाया। इन चालकों पर भी एआरटीओ ने कार्रवाई की। एआरटीओ ने बताया कि शनिवार को भी लगाए गए नाके के दौरान यातायात पुलिस ने बिना सीट बेल्ट वाहन चलाने वालों सहित अन्य यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर कार्रवाई कर 20 हजार के करीब जुर्माना वसूला गया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप