जम्मू, राज्य ब्यूरो : भारतीय जनता पार्टी की कश्मीर में बढ़ती लोकप्रियता से आतंकी संगठन अब बौखला गए हैं। लश्कर-ए-तैयबा के हिट स्क्वाड कहे जाने वाले द रजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) ने इंटरनेट मीडिया पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रविन्द्र रैना को धमकी दी है। सुरक्षा एजेंसियों ने रैना को धमकी की जानकारी देते हुए सतर्क रहने को कहा है। वहीं, रैना ने कहा कि वह इस तरह की धमकियों से न डरते हैं और न डरेंगे। बता दें कि पुलिस प्रशासन ने रविंद्र रैना को पहले से ही जेड श्रेणी की सुरक्षा दी है।

प्रदेश अध्यक्ष रैना ने कहा कि इस तरह की धमकियां रोजमर्रा की बात हो गई है। अप्रैल में उन्हेंं पाकिस्तान के मोबाइल नंबर से एक फोन और वीडियो संदेश आया था जिसमें फोन करने वाले ने खुद को लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर बताया था और उन्हेंं धमकी दी थी।

यह भाजपा की विशेषकर कश्मीर में बढ़ती लोकप्रियता को लेकर पाकिस्तान के आतंकवादियों की हताशा को दिखाता है। हाल के मेरे दौरे पर दक्षिण कश्मीर में हजारों लोगों ने मेरा स्वागत किया और हमारी रैलियों में भाग लिया। भाजपा इस तरह की धमकियों से डरने वाली नहीं है।

वह सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मिशन के तहत जम्मू कश्मीर की शांति, प्रगति और विकास के लिए काम करती रहेगी। कश्मीर में आए दिन भाजपा नेताओं पर आतंकी हमले बौखलाहट का नतीजा है। रैना ने कहा कि अगले विधानसभा चुनाव में भाजपा सरकार बनाएगी।

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में पिछले दो वर्षों में उनके 23 नेताओं और कार्यकर्ताओं की हत्या की गई है। इस महीने आतंकवादियों ने 17 अगस्त को कुलगाम में भाजपा पदाधिकारी जावेद अहमद डार और अनंतनाग में 10 अगस्त को गुलाम रसूल डार की हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि राष्ट्र विरोधी तत्व डरे हुए हैं और उन्हेंं बख्शा नहीं जाएगा। 

Edited By: Rahul Sharma