श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। कश्मीर में दम तोड़ रहे आतंकवाद को फिर से जिंदा करने के लिए आतंकी संगठनों ने पाकिस्तान सैनिकों की मदद से घाटी में स्टिकी बम पहुंचा दिए हैं। अफगानिस्तान-इजरायल में कहर बरपाने वाले इन स्टिकी बम अथवा चुबंकी बम को कैसे तैयार और इस्तेमाल किया जाए। इसकी जानकारी देता वीडियो इन दिनों घाटी में खूब वॉयरल हो रहा है। यह वीडियो आतंकी संगठन पीपुल्स एंटी फासिस्ट फ्रंट ने तैयार किया है। इस वीडियो के जरिए वह आतंकियों को बम तैयार कर उसके इस्तेमाल की जानकारी देता नजर आ रहा है। वॉयरल वीडियो ने सुरक्षा एजेंसियों की ही नहीं बल्कि सेना व जम्मू-कश्मीर पुलिस की नींद भी उड़ा दी है।

आपको बता दें कि स्टिकी बमों का इस्तेमाल मुख्य तौर पर अफगानीस्तान में तालीबानी आतंकी या फिर इराक में सक्रिय आतंकी करते आए हैं। जम्मू-कश्मीर में इन बमों की पहली बार बरामदगी करीब एक माह पहले जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटेे रामगढ़ सेक्टर में हुई थी। चिंता की बात यह है कि पुलिस व अन्य सुरक्षा एजेंसियों के पास जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों के पास स्टिकी बम जिन्हें मैग्नेटिक व चुंबकीय बम भी कहा जाता है, कि मौजूदगी की स्पष्ट जानकारी नहीं है। वह इस बारे में कुछ भी कहने से बच रहे हैं। संबधित सूत्र मानते हैं कि यह बम आतंकियों के पास पहुंच गए हैं। इनकी मौजूदगी की पुष्टि होने के बाद सुरक्षाबलाें ने हाईवे और अन्य जगहाें पर अपने वाहनों की आवाजाही की ड्रिल में व्यापक बदलाव लाया है।

वीडियो में यह दी जा रही है जानकारी: वॉयरल हो रही वीडियो में स्टिकी बम को कैसे इसतेमाल किया जाता है, इसका इस्तेमाल कैसे किया जाए, इस बारे में बताया गया है। यह वीडियो आतंकी संगठन पीएएफएफ ने इंटरनेट मीडिया पर जारी किया है। वीडियो में बम इस्तेमाल करने के बारे में जानकारी देने वाला आतंकी कोई कश्मीरी ही है। वह कश्मीरी भाषा में पूरे विस्तार से इस बम को लगाने और इसमें धमाका करने के तरीके के बारे में समझा रहा है। वह बता रहा है कि यह यह बम कब और कैसे ज्यादा घातक साबित हो सकता है। इसे किसी भी जगह सड़क पर लगाया जा सकता। जैसे ही कोई वाहन जो निशाने पर हो, इसके ऊपर से गुजरता है तो यह उसके नीचे चिपक जाएगा। फिर रिमोट या पहले से तय किए गए समय के मुताबिक इसमें अपने तरीके से धमाका कराया जा सकता है। यह धमाका उस समय भी किया जा सकता है जब स्टिकी बम वाला वाहन टार्गेट पर पहुंचे। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021