राज्य ब्यूरो, जम्मू : जम्मू के स्कूली बच्चे देश के लिए जान देने वाले शहीदों व उनके परिवारों को समर्पित सशस्त्र सेना झंडा दिवस (फ्लैग डे) के माध्यम से देश भक्ति का संदेश देंगे। राज्यपाल एनएन वोहरा के निर्देश पर राज्य सैनिक कल्याण बोर्ड फ्लैग डे के कार्यक्रमों में स्कूली बच्चों की भागीदारी बढ़ाएगा।

सात दिसंबर फ्लैग डे के उपलक्ष्य पर कार्यक्रमों के दौरान स्कूली बच्चे शहीद परिवारों, युद्ध के मैदान में वीरता दिखाने वाले पूर्व सैनिकों के घर जाकर उनका आभार जताएंगे। यह जानकारी सैनिक कल्याण बोर्ड के निदेशक ब्रिगेडियर हरचरण ¨सह ने शुक्रवार को जम्मू में संवाददाता सम्मेलन के दौरान दी। निदेशक ने बताया कि बोर्ड ने स्कूली शिक्षा विभाग, कला संस्कृति एवं भाषा अकादमी के सहयोग से स्कूली बच्चों के लिए देशभक्ति गीत प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। अक्टूबर में पहले चरण में 24 टीमें, नवंबर महीने में दूसरे चरण में स्कूली बच्चों की 27 टीमें प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। इनमें से चोटी पर रहने वाली छह टीमें दिसंबर में होने वाले देशभक्ति गीत प्रतियोगिता में स्थान पाएंगी। राज्यपाल प्रतियोगिता के फाइनल में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे। ब्रिगेडियर हरचरण ¨सह ने बताया कि कई गैर सरकारी संगठन शहीद परिवारों को अपनाने को तैयार हैं। ये संगठन शहीद परिवारों के घरों में जाकर उनका हौंसला बढ़ाएंगे।

बोर्ड की ओर से भी कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से पेंशन न पाने वाली वीर नारियों को वित्तीय सहयोग दिया जाएगा। बोर्ड के निदेशक के साथ कला संस्कृति एवं भाषा अकादमी के अतरिक्त सचिव अरविन्द्र ¨सह अमन व स्कूली शिक्षा विभाग जम्मू के पर्सनल आफिसर राजीव कुमार खजूरिया भी मौजूद थे। उन्होंने फ्लैग डे के कार्यक्रमों को कामयाब बनाने के लिए दिए जा रहे सहयोग के बारे में विस्तार से बताया।

By Jagran