जकार्ता, पीटीआइ। गत चैंपियन भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने अपने शानदार खेल का प्रदर्शन जारी रखते हुए शुक्रवार को यहां जापान को 8-0 से शिकस्त देकर एशियन गेम्स में अपनी लगातार तीसरी जीत हासिल की। भारतीय टीम टूर्नामेंट में अब तक तीन मैचों 51 गोल दाग चुकी है। उसने इससे पहले के अपने पूल-ए के दो मैचों में इंडोनेशिया को 17-0 से और हांगकांग को रिकॉर्ड 26-0 से शिकस्त दी थी।

भारत की ओर से ड्रेग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह (17वें व 37वें मिनट) और मनदीप सिंह (32वें व 56वें मिनट) ने दो-दो गोल दागे, जबकि एसवी सुनील (सातवें मिनट), दिलप्रीत सिंह (12वें मिनट), आकाशदीप सिंह (45वें मिनट) और विवेक सागर प्रसाद (47वें मिनट) ने एक-एक गोल दागा।

16वीं रैंकिंग पर काबिज जापान की टीम को पूरे मैच के दौरान 48वें मिनट में एकमात्र पेनाल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा सकी। विश्व की पांचवें नंबर की टीम भारत अब रविवार को 14वीं रैंकिंग पर काबिज कोरिया से भिड़ेंगी, जबकि उसका अंतिम पूल मुकाबला श्रीलंका के खिलाफ खेला जाएगा।

एसवी सुनील ने सातवें मिनट में ही गोल दागकर भारतीय टीम को बढ़त दिला दी। इसके पांच मिनट बाद ही दिलप्रीत ने गोल कर स्कोर 2-0 कर दिया। पहले क्वार्टर के बाद स्कोर भारत के पक्ष में 2-0 से था रहा। दूसरे क्वार्टर के शुरू होने के दो मिनट बाद ही रुपिंदर ने 17वें मिनट में गोल कर स्कोर 3-0 कर दिया। हाफ टाइम तक स्कोर 3-0 रहा। दूसरे हाफ में भारतीय खिलाडि़यों ने रफ्तार पकड़ी और आक्रमण तेज किया। मनदीप ने 32वें मिनट में गोल कर स्कोर 4-0 किया। रुपिंदर ने टीम का पांचवां गोल 37वें मिनट में दागा। आकाशदीप ने 45वें मिनट और विवेक ने 47वें मिनट में गोल कर टीम का स्कोर 7-0 कर दिया। मनदीप ने अपना दूसरा और टीम का आठवां गोल 56वें मिनट में किया।

भारतीय टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा, 'मैं स्कोर लाइन से खुश नहीं हूं। हमने काफी मौके गंवाए और इस तरह की चीजें टूर्नामेंट में स्वीकारने योग्य नहीं हैं।' हैमस्ट्रिंग इंजरी के बाद टीम में वापस लौटने के बाद टूर्नामेंट में लगातार गोल कर रहे रुपिंदर ने कहा कि वह आगे आने वाले बड़े मैचों से पहले जिस तरह से तैयार हो रहे हैं उससे वह संतुष्ट हैं। उन्होंने कहा, 'चोटिल होना निराशाजनक होता है। मैं रिहैब के बाद सिर्फ एक महीने पहले लौटे हैं। मैं अब ताकतवर महसूस कर रहा हूं। कोच और टीम के साथियों ने मेरी काफी मदद की है। गोल करने से मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है और यह बड़े मैचों में निश्चित ही मदद करेगा।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Pradeep Sehgal